लखनऊ: बैलट पेपर से चुनाव कराने की मांग को लेकर मौलिक अधिकार पार्टी ने केंद्र सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

डीएन संवाददाता

लखनऊ में बैलट पेपर से चुनाव कराने की मांग को लेकर मौलिक अधिकार पार्टी ने केंद्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी की और इसी के साथ अति पिछड़ा आयोग बनाने की भी मांग उठाई।

मौलिक अधिकार पार्टी केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करती हुई
मौलिक अधिकार पार्टी केन्द्र सरकार के खिलाफ नारेबाजी करती हुई

लखनऊ: यूपी के 2017 के चुनावों में भाजपा को मिली जीत के साथ ही ईवीएम से चुनाव कराने का विरोध शुरू हो गया है। ईवीएम के खिलाफ इस लड़ाई मे आप,सपा,बसपा और काग्रेंस के बाद अब छोटे दल भी खुलकर मैदान मे आ गये हैं। दरअसल सभी दलों की मांग है की ईवीएम की जगह पर बैलेट पेपर से ही चुनाव कराए जाएं। इस मामले मे विपक्षी दलों का आरोप है की ईवीएम मे आसानी से, टेंपरिंग की जा सकती है। अपनी इसी मांग को लेकर मौलिक अधिकार पार्टी ने जीपीओ स्थित गांधी प्रतिमा के नीचे धरना दिया और राज्यपाल को मजिस्ट्रेट के माध्यम से ज्ञापन सौंपा।

यह भी पढ़ें: मध्य प्रदेश की हिंसा से नाराज कार्यकर्ताओं ने लखनऊ में बीजेपी सरकार के खिलाफ किया प्रदर्शन

चुनाव आयोग ने दी थी टेंपरिंग की चुनौती

कुछ दिनों पहले केंद्रीय चुनाव आयुक्त नसीम जैदी ने विभिन्न राजनीतिक दलों की मांग पर उन्हें ईवीएम में टेंपरिंग की चुनौती दी थी लेकिन एनसीपी को छोड़ किसी दल ने यह चुनौती स्वीकार नही की। हांलाकि वह भी इसमें सफल नहीं हो पाई।

अति पिछड़ा वर्ग आयोग बनाने की उठाई मांग

धरनें मे शामिल लोगों ने पिछड़ों में अति पिछड़ों को चिन्हित कर उन्हें उनकी आबादी के आधार पर अलग आरक्षण देने की मांग की। इसी के साथ अति पिछड़ा आयोग बनाने की भी मांग उठाई।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …