दीवाली पर इस शुभ मुहूर्त में करें पूजा, सदा विराजमान रहेंगी लक्ष्मी

डीएन ब्यूरो

पूरे देश में दिवाली का त्योहार बड़े ही हषोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। इस बार दिवाली पर पूजा का विशेष मुहूर्त है। अगर आप शुभ समयकाल में पूजा करते हैं तो आपको जरूर पूजा का फल मिलेगा।

फाइल फोटो
फाइल फोटो

नई दिल्ली: पूरे देश में दिवाली का त्योहार बड़े ही हषोल्लास के साथ मनाया जा रहा है। दिवाली का त्योहार कार्तिक अमावस्या के दिन मनाया जाता है। दिवाली भारत में मनाया जाने वाला हिंदूओं का सबसे महत्वपूर्ण पर्व है।

 

इस बार दिवाली पर पूजा का विशेष मुहूर्त है। अगर आप शुभ समयकाल में पूजा करते हैं तो आपको जरूर पूजा का फल मिलेगा। लक्ष्मी पूजन के लिए गुरुवार शाम 7 बजकर 14 मिनट से रात 9 बजकर 11 मिनट का समय है। पूजन की अवधि कुल 2 घंटे 3 मिनट की रहेगी।

ऐसे करें मां लक्ष्मी का पूजन

मां लक्ष्मी की पूजा सफेद या गुलाबी वस्त्र पहनकर करनी चाहिए। मां लक्ष्मी को गुलाबी पुष्प, विशेषकर कमल चढ़ाना सर्वोत्तम रहता है। मां लक्ष्मी के मन्त्रों का जाप स्फटिक की माला से करने पर वह तुरंत प्रभावशाली होता है। दीपावली के दिन भगवान गणेश व लक्ष्मी के पूजन का विशेष महत्व हैं । इस दिन गणेश जी कि पूजा से ऋद्धि–सिद्धि कि प्राप्ति होती हैं एवं लक्ष्मी जी के पूजन से धन, वैभव, सुख, संपत्ति कि प्राप्ति होती हैं।

दिवाली पूजन में अमावस्या तिथि, प्रदोष निशीथ और महानिशीथ काल का विशेष महत्व होता है। जो लोग प्रदोष काल में पूजन नहीं कर सकते, वह निशीथ एवं महानिशीथ काल में पूजा कर सकते हैं।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …