ओडिशा: स्वदेशी क्रूज मिसाइल 'ब्रह्मोस' का सफल परीक्षण

डीएन ब्यूरो

ओडिशा के चांदीपुर परीक्षण केंद्र से आज डीआरडीओ ने भारत-रूस के साझा उपक्रम से तैयार की गयी स्वदेशी क्रूज मिसाइल 'ब्रह्मोस' का सफल परीक्षण किया। पूरी खबर..

 'ब्रह्मोस' मिसाइल
'ब्रह्मोस' मिसाइल

ओडिशा: भारतीय वैज्ञानिकों ने सोमवार को ओडिशा के चांदीपुर परीक्षण केंद्र से स्वदेशी क्रूज मिसाइल 'ब्रह्मोस' का सफल परीक्षण किया है। यह मिसाइल भारत-रूस के साझा उपक्रम से तैयार की गयी  है। इस सफल परीक्षण के लिए देश की रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने डीआरडीओ को बधाई दी है।

ब्रह्मोस' मिसाइल की लंबाई 8.4 मीटर जबकि चोड़ाई 0.6 मीटर और वजन 3 हजार किलोग्राम है। 

बता दें कि ब्रह्मोस पहली ऐसी भारतीय मिसाइल है, जिसकी कार्यअवधि 10 से 15 साल तक बढ़ा दी गई है। यह सुपर सोनिक क्रूज मिसाइल आवाज की गति से भी 2.8 गुना तेज जाने की क्षमता रखती है। इससे पहले राजस्‍थान के पोखरण में इसी साल 22 मार्च को सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल 'ब्रह्मोस' का सफल परीक्षण किया गया था।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …