बलरामपुर: जिले को कुपोषण से मुक्त करने के लिए डीएम ने दिये कई निर्देश

डीएन ब्यूरो

जिले को कुपोषण से मुक्त करने के लिए जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने अधिकारियों के साथ बैठक कीऔर उन्हें कई निर्देश दिये है। पूरी खबर..

बैठक करते डीएम के साथ अन्य अधिकारी
बैठक करते डीएम के साथ अन्य अधिकारी

बलरामपुर: जिले को कुपोषण से मुक्त करने के लिए जिलाधिकारी राकेश कुमार मिश्र ने अधिकारियों के साथ बैठक की। इस बैठक में उन्होंने कहा कि जिले को कुपोषण मुक्त कराने के लिए जिन अधिकारियों द्वारा गांव को गोद लिया गया है, वह उस गांव का माह में दो बार निरीक्षण अवश्य करें। इस दौरान उन्होंने कुपोषित बच्चों को चिन्हित करने के आदेश भी दिये।

यूनीसेफ से आई डॉ स्तुति वर्मा ने सभी अधिकारियों सहित बाल विकास विभाग की मुख्य सेविकाओं को कुपोषित बच्चों की पहचानने की जानकारी दी। जिलाधिकारी मिश्र ने कार्यक्रम अधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि आंगनबाडी कार्यकत्री व साहयिका गांवों में सर्वे कर कुपोषित बच्चों को लाल व पीले कार्ड से चिन्हित करें। ऐसे बच्चों के परिवार को पेंशन देकर उन्हें कुपोषण से मुक्त किया जाएगा। 

उन्होंने यह भी कहा कि सभी सीडीपीओ व मुख्य सेविका एक एक गांव को गोद ले और एक माह के भीतर कुपोषण से उस गांव को मुक्त करें। उन्होंने कहा कि कुपोषण समाप्त करने के लिए सभी बच्चों की मां का जागरूक होना जरूरी है, जिससे उन्हें यह पता हो कि कौन सा आहार शिशु के लिए सही है। उन्होंने कहा कि इस कार्य में किसी तरह से लापरवाही क्षम्य नहीं है। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार