'जनता का पैसा जनता के काम'

डीएन संवाददाता

अमेठी में आज इंटरलाकिंग रोड की शुरूआत हुई। इसके शिलान्यास पर किसी मंत्री या नेता का नाम नहीं लिखा है बल्कि लिखा है 'जनता का पैसा जनता के काम'।

शिलान्यास करते एमएलसी दीपक सिंह
शिलान्यास करते एमएलसी दीपक सिंह

अमेठी: आमतौर पर मंत्री, एमपी, एमएलए की निधि से बनने वाली सड़कों या अन्य विकास रूपी कार्य योजनाओं के शिलापट पर उनके ही नाम देखने को मिलते हैं। लेकिन कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने इस प्रथा को तोड़ते हुए नया कदम उठाया है। आज एक इंटरलाकिंग रोड का शुभारंभ करते हुए अपने नाम की जगह लिखवाया 'जनता का पैसा जनता के काम' और उदघाटन कर्ता की जगह लिखवाया 'क्षेत्रवासी' जो अब चर्चा का विषय बना है।

यह भी पढ़ें: सीएम योगी: अगले एक साल में गांवों और शहरों को मिलेगी 24 घंटे बिजली..

यह भी पढ़ें: रायबरेली में पूरे तेवर में दिखीं प्रियंका गांधी, कहा- यूपी को बाहरी की जरुरत नही

गौरीगंज-मुसाफिरखाना मार्ग से नेवादा गांव को कांग्रेस एमएलसी दीपक सिंह ने लाखों रुपए की लागत से बनी इंटर लाकिंग सड़क का तोहफा दिया है। इस मौके पर उन्होंने कहा कि विकास कार्य जनता के पैसे से ही किए जाते हैं, तो उनके पैसे का भी जिक्र होना चाहिए। इसीलिए शिलान्यास पर अपना नाम न लिखवा कर उस पर अलग स्लोगन लिखवाया। इतना ही नहीं उदघाटन कर्ता की जगह भी उन्होंने अपना नाम न लिखवाकर वहां 'क्षेत्रवासी' लिखवाया। इसकी ग्रामवासियों ने जमकर सराहना की है।

दीपक सिंह ने कहा की जब लोग दिल में नाम लिख लें तो समझूंगा की राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के बताए अनरूप रास्ते पर चल उनके परिवार अमेठी के लिए कुछ कर पा रहा रहा हूं।

बिना सड़क हम अधूरे हैं: एमएलसी दीपक

एमएलसी ने कहा कि सड़क विकास का पैमाना होती है, जहां की सड़कें जितनी सुंदर और स्वच्छ होती हैं वहां विकास की रफ्तार उतनी तेज होती हैं। उन्होंने कहा कि गांव हो या शहर आज हर जगह सड़क की ज़रूरत है, बिना सड़क हम अधूरे हैं। वहीं एमएलसी ने कहा कि गांवों में तो सड़कों की उपयोगिता और अधिक हो गई है। इसके बाद एमएलसी ने यहां बैठक कर ग्रामीणों की और मूलभूत समस्याओं के बारे में जानकारी ली।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार