बड़ी खबर: नेपाल सीमा पर बाहरी जिले के 14 मौलवियों को देख मचा हड़कंप, एलआईयू को नहीं लग सकी भनक

डीएन ब्यूरो

जिले का एलआईयू महकमा पूरी तरह से फेल नजर आ रहा है। जिले पर स्थित नेपाल सीमा से सटे पुरंदरपुर थाना क्षेत्र के मदरहा ककटही गांव के ईटहिया मस्जिद में फिरोजाबाद जिले से 14 मौलवियों के पहुंचने की खबर है।


महराजगंज: टीवी चैनलों पर दिल्ली के तब्लीगी जमात के मरकज की खबर से सहमे इलाके लोगों ने जब इन मौलवियों को देखा तो हड़कंपा मच गया। न तो पुलिस के मुखबिरों को इसकी भनक लगी और न ही जिले की एलआईयू को।

यह भी पढ़ें: महराजगंज का निक्कू जायसवाल मर्डर: हत्या के आरोपी अनिल गुप्ता को कब मिलेगी सजा? परिजनों के आंखों के नहीं सूख रहे आंसू?

डाइनामाइट न्यूज़ ने इस बारे में फरेन्दा के सीओ अशोक मिश्र से बात की। उन्होंने बताया कि उक्त लोग 12 मार्च को इलाके में आय़े थे और ये लोग मस्जिदों में प्रचार प्रसार करते थे। मदरसा के प्रबंधक को हिदायत दी गयी है कि उक्त सभी लोग ल़ॉकडाउन की सीमा तक कहीं बाहर नहीं निकलेंगे। सभी लोगों को मेडिकल चेकअप भी करा दिया गया है। पुलिस हालात पर नजर बनाये हुए है।

यह भी पढ़ेंः महराजगंज की बड़ी ख़बर, हिस्ट्रीशीटर अनिल गुप्ता पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, भेजा जेल

यह भी पढ़ेंः गैंगेस्टर अनिल गुप्ता की बढ़ी मुसीबतें, फर्जी RTI/लीगल नोटिस के नाम पर अधिकारियों को डरा-धमका अर्जित की गयी सम्पतियों की जब्ती में जुटा जिला प्रशासन

मीडिया में मामले का भंडाफोड़ होने के बाद जिले की पुलिस मशीनरी अब इस प्रकरण पर पर्दा डालने की कोशिश में है जैसे कहीं कुछ हुआ ही नहीं।

यह भी पढ़ें: गैंगेस्टर अनिल गुप्ता पर दर्ज हत्या, रंगदारी, वसूली, हिस्ट्रीशीट, गुंडा एक्ट जैसे संगीन मुकदमों की सरकारी कुंडली

इस मामले का भंडाफोड़ मंगलवार की सुबह हुआ। जब गांव वालों की आंखें खुली तो मस्जिद में बड़ी संख्या में बाहरी लोगों को देख हैरान हो गये। पुरंदरपुर थानेदार मस्जिद में पहुंच गए और मौलवियों से पूछताछ शुरू की।

जांच में निकलकर आय़ा कि ये फिरोजाबाद के रहने वाले हैं। दो माह से वे मुस्लिम धर्म के प्रचार-प्रसार के लिए निकले हैं। इन सबके बीच मौलवियों की मौजूदगी का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार