Maharashtra Crisis: शिवसेना के वकील कपिल सिब्बल ने रखी अपनी दलीलें

डीएन ब्यूरो

महाराष्ट्र में सियासी हलचल आज फिर से कोर्ट में देखने को मिल रही है। आज कोर्ट में मामले की दूसरी सुनवाई की जा रही है। अभी तक फडणवीस, अजीत पवार और राज्यपाल की तरफ से दलीलें दी गई हैं। जिसके बाद अब कपिल सिब्बल अपनी दलीलें पेश कर रहे हैं। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

कपिल सिब्बल
कपिल सिब्बल

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट में इस वक्त तीखी बहस चल रही है। तुषार मेहता ने जहां पूरे अस्तबल के गायब होने का दावा किया था उसपर अब कपिल सिब्बल ने जवाब दिया है। सिब्बल ने कहा है कि सिर्फ घुड़सवार ही भागा है, घोड़े वहां के वहां ही हैं।

यह भी पढ़ेंः Maharashtra Politics- सुप्रीम कोर्ट ने मुकुल रोहतगी से विधायकों के समर्थन को लेकर पूछा बड़ा सवाल..

सिब्बल ने कहा है कि सिर्फ घुड़सवार ही भागा है, घोड़े वहां के वहां ही हैं। मुकुल रोहतगी ने कहा कि विधायकों को होटल में बंद किया गया था, फैसला जल्दी होना चाहिए। उन्होंने कहा कि अगर 24 घंटे या 48 घंटे में निर्देश दिया तो किसे देगा? सदन की व्यवस्था तो स्पीकर ही देखेंगे। कपिल सिब्बल ने कहा कि 22 की रात को प्रेस कॉन्फ्रेंस हुई जिसमें कांग्रेस-एनसीपी और शिवसेना ने सरकार बनाने की बात कही। सभी की दलीलें सुनने के बाद अब कोर्ट में सारे जस्टिस चर्चा कर रहे हैं। थोड़ी ही देर में अब ये महाराष्ट्र में सरकार का भविष्य तय हो जाएगा। कपिल सिब्बल ने 24 घंटों में फ्लोर टेस्ट की मांग की है।  

यह भी पढ़ेंः महाराष्ट्र संकट पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई शुरू, सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने रखी अपनी दलीलें

वहीं अजित पवार की तरफ से पक्ष रख रहे मनिंदर सिंह ने कहा कि मैं ही एनसीपी हूं और मैं ही नेता हूं। तुषार मेहता ने कहा कि राज्यपाल को ये भी देखना होगा कि कौन स्थाई सरकार देगा? अजित पवार के वकील ने कहा कि जो मैंने सूची दी है वो पूरी तरह से सही है। जैसे भी हो फैसला निकलना चाहिए, चाहे कोर्ट से निकले या फिर राज्यपाल से।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)













संबंधित समाचार