महराजगंज: 20 हजार की सुपारी लेकर की गयी पूर्व ग्राम प्रधान पति की हत्या, हथियारों संग 3 आरोपी गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

महराजगंज पुलिस ने आखिरकार पूर्व प्रधान पति के हत्याकांड के मामले को सुलझाते हुए तीन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपियों ने महज 20 हजार रूपये लेकर इस हत्याकांड को अंजाम दिया था। इस केस में कई और चौकान वाले खुलासे सामने आये हैं। डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

महराजगंज: पुलिस ने पनियरा के ग्राम गोनहा में पूर्व ग्राम प्रधान पति तेजप्रताप यादव की हत्या का मामला सुलझा लिया है। इस चर्चित हत्याकांड में शामिल तीन आरोपियों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस पूछताछ में तीनों आरोपियों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। गिरफ्तार आरोपियों के कब्जे से पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हथियार, बाइक के साथ अवैध कट्टा और कारतूस भी बरामद किया। 

यह भी पढ़ें: महराजगंजः छात्राओं ने एसपी समेत पुलिस कर्मियों को बांधा रक्षा सूत्र, गिफ्ट में मिला सुरक्षा का वादा

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान शिवम सिंह पुत्र सुनील सिंह (देवरिया), रजनीश यादव पुत्र रघुनाथ यादव (गोरखपुर) और आकाश उर्फ बंटी वर्मा पुत्र संजय (देवरिया) के रूप में की गयी। 
पुलिस ने मुखबिर की सूचना के आधार पर मिली जानकारी के तहत तीनों आरोपियों को दबोचा। तीनों अब तक कई तरह के आपराधिक घटनाओं को अंजाम दे चुके हैं।

गौरतलब है कि पनियरा के ग्राम गोनहा में पूर्व ग्राम प्रधान पति तेजप्रताप यादव पुत्र भगवती यादव (40) को 24 जुलाई को गोली मार दी थी। ग्राम प्रधान पति ने इलाज के दौरान दम तोड़ दिया था। इस मामले में पुलिस में शिकायत दर्ज कराई गयी थी। जांच में जुटी पुलिस को इस घटना में गिरफ्तार आरोपियों की तलाश थी। मुखबिर ने पुलिस को आरोपियों के महराजगंज आने की जानकारी दी थी, जिसके बाद उन्हें गिरफ्तार कर लिया गया।

यह भी पढ़ें: महराजगंजः रक्षाबंधन पर मातम, राखी बंधवाने के लिये घर आ रहे भाई की ट्रेन से कटकर मौत 

गिरफ्तार आरोपियों से पूछताछ के दौरान ज्ञात हुआ कि रंजिश के तहत इस हत्याकांड को अंजाम दिया गया था। रंजिश के कारण अवैध लकड़ी का धंधा करने वाले सोनू सिंह के कहने पर रजनीश यादव व उसके दो गिरफ्तार साथियों ने मिलकर तेज प्रताप यादव को गोली मारी थी। इसके एवज़ में सोनू सिंह ने हत्यारोपियों को 20 हजार रुपये दिये थे। गिरफ्तारी के वक्त आरोपी शेष रुपये लेने के आये थे तभी उनको पुलिस ने दबोच लिया।

पुलिस इस घटना में शामिल सोनू सिंह की गिरफ्तारी के प्रयास में जुटी हुई है। इसके अलावा इस हत्याकांड में एक और अभियुक्त जितेन्द्र साहनी भी शामिल है जो गोरखपुर जिला कारागार में बंद है।
 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार