महराजगंज: बेवफा पत्नी बनी कातिल.. देवर के साथ जिस्मानी संबंधों में बाधक पति को खौफनाक तरीके से लगाया ठिकाने

डीएन ब्यूरो

देवर के साथ अवैध संबंधों में बाधा बन रहे पति को ठिकाने लगाने के लिये बेवफा पत्नी ने ऐसी साजिश रची की सुनने वालों के भी रोंगटे खड़े हो जाये। देवर के इश्क और अवैध संबंधों में अंधी बनी बेवफा पत्नी ने घायल होकर तड़पते पति पर ऐसा आखिरी वार किया कि उसके प्राण पखेरू उड़ गये। जाने.. इस सनसनीखेज हत्याकांड को कैसे दिया गया अंजाम..


महराजगंज: सदर कोतवाली के नदूआ गांव में शिवकुमार पान्डेय की निर्मम हत्या का मामला पुलिस ने सुलझा लिया। देवर-भाभी के बीच अवैध संबंधों के कारण यह सनसनीखेज हत्या की गयी थी। शिवकुमार इन 'मधुर' संबंधों में बाधक बन रहा था, जिसके कारण उसकी हत्या करने की साजिश रची गयी। शिवकुमार की हत्या को उसके भाई ने ही भाभी के साथ मिलकर अंजाम दिया था। पुलिस ने हत्या में प्रयुक्त हथियार भी बरामद कर लिया है।

पुलिस गिरफ्त में कातिल

 

अवैध संबंधों की लग गयी थी भनक

पुलिस अधीक्षक ने इस सनसनीखेज हत्या का खुलासा करते हुए कहा कि मृतक शिवकुमार दिल्ली में रहकर हार्डवेयर की दुकान चलाता था, जबकि उसकी पत्नी अम्बालिका महराजगांज में अपने घर पर ही रहती थी। शिवकुमार का छोटा भाई संदीप पान्डेय गोरखपुर रहकर ज्योतिष और पूजा पाठ का काम करता है। काम निपटाकर संदीप हर शाम अपने घर पर आता था। संदीप का अपनी भाभी अम्बालिका के साथ अवैध सम्बन्ध हो गये थे। मृतक शिवकुमार को अपने भाई और पत्नी के बीच अवैध संबंधों की भनक काफी पहले लग गयी थी।

हत्या में प्रयुक्त हथियार

 

सम्बन्धों को लेकर भाईयों में मारपीट

पुलिस के मुताबिक भाभी-देवर के अवैध सम्बन्धों को लेकर मृतक और उसके भाई के बीच घर में अक्सर लड़ाई-झगड़ा भी होता रहता था। 21 जून को मृतक  दिल्ली से घर आया। इसी दिन अम्बालिका के साथ अवैध सम्बन्धों को लेकर दोनों भाईयों के बीच खूब मारपीट हुई। 

संबंधों में बेवफाई ने पहुंचाया जेल

 

मोबाइल पर रची हत्या की साजिश

उसी रात को मृतक की पत्नी अम्बालिका और उसके देवर संदीप के बीच मोबाईल पर घण्टों बातचीत हुई और दोनों ने संबंधों में बाधक बन रहे शिवकुमार को ठिकाने लगाने की योजना बनाते हुए उसकी हत्या की साजिश रच डाली। उसके बाद संदीप गोरखपुर से अपनी मोटरसाइकिल से ही चल कर रात 11 बजे घर पंहुचा। रात के अंधेरे में वह अपने घर के बाउंड्री वॉल पर चढ़ा और बरामदे में सो रहे अपने भाई शिवकुमार के गले पर धारदार हथियार से प्रहार किया और भाग गया।

बेवफा पत्नी का आखिरी वार

शिवकुमार पर जब उसके भाई ने धारदार हथियार से हमला किया, उस समय अंबालिका भी शिवकुमार के साथ थी। शिवकुमार जैसे ही छटपटाने लगा उसकी बेवफा  पत्नी ने उस पर दोबारा प्रहार किया ताकि वह जिंदा न रह सके। पत्नी के इस वार से शिव कुमार के प्रण पखेरु उड़ गये। 

झझनपुर चौराहे से गिरफ्तारी 

इस सनसनीखेज हत्याकांड को सुलझाने में जुटी पुलिस को मुखबिर ने एक अहम सूचना दी, जिसके बाद पुलिस ने मृतक के भाई और पत्नी को झझनपुर चौराहे से गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ पर दोनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया। पुलिस ने दोनों आरोपियों की निशानदेही पर हत्या में प्रयुक्त खून से सना बोगदा, मोटरसाइकिल, खून से सने कपडे और दोनों आरोपियों के मोबाईल बरामद कर लिये है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …