UP: महराजगंज में प्राइवेट शिक्षकों की हालत ख़राब, सेलरी नही मिलने से भुखमरी के कगार पर

डीएन ब्यूरो

कोरोना महामारी के चक्कर मे प्राइवेट शिक्षकों की हालत खराब हो गई है, सेलरी नही मिलने शिक्षक भुखमरी के कगार पर पहुँच चुके हैं। पूरी खबर:

फाइल फोटो
फाइल फोटो

महराजगंज: कोरोना महामारी को लेकर जब से लॉकडाउन हुआ तब से प्राइवेट शिक्षकों की हालत बद से बदतर हो चुकी है लेकिन स्कूल मालिक कहा मानने वाले हैं? अभी तक प्राइवेट स्कूल मालिकों ने जो कुछ भी किया वह सरकार के आदेशों की खुली धज्जियां उड़ा रहा है। न तो फीसों पर प्रतिबंध है न तो किताबें बेचने में।

बड़ा सवाल यह है जब सब कुछ विद्यालय प्रशासन काम शिक्षको से ही बंदी के दौरान भी करा रहे हैं तो फिर सेलरी देने में मोह क्यों लग रहा है। दर्जन भर से ज्यादा प्राइवेट शिक्षकों ने डाइनामाइट न्यूज़ को नाम न छापने के शर्त पर बताया कि 2-2, 3-3 महीनों की सेलरी रोकी गई है, काम के वावजूद विद्यालय प्रशासन सेलरी नही दे रहा है। शिक्षकों की हालत दिन पर दिन खराब होती जा रही है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार