महाराजगंज: पुलवामा हमले में शहीद जवान की जमीन पर दबंगो का कब्जा, परिवार को मिल रही धमकी

डीएन ब्यूरो

जम्मू कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को हुए आतंकी हमले में शहीद हुए जवान के परिवार को मुसीबत का सामना करना पड़ रहा है। अंतिम संस्कार के समय प्रभारी मंत्री रमापति शास्त्री ने शहीद के नाम पर स्पोर्ट्स स्टेडिएम, सड़क, गांव में शहीद की प्रतिमा और खेती के लिए एक एकड़ जमीन पट्टे पर देने की घोषणा की थी। उस जमीन पर अब गांव के कुछ दबंगो ने कब्जा कर लिया है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए पंकज त्रिपाठी
पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए पंकज त्रिपाठी

महाराजगंज: पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए हरपुर बेलहिया निवासी पंकज त्रिपाठी के परिजनों को पट्टे पर मिली एक एकड़ जमीन पर कब्जे की कोशिश की जा रही है। परिवार वालों के विरोध करने पर उन्हें धमकी भी दी जा रही है। 

यह भी पढ़ें: लखनऊ: संभल में पुलिसकर्मियों पर गोली चलाने वाले आरोपियों के फोटो पुलिस ने किए जारी

मंगलवार को समाधान दिवस में शहीद के भाई द्वारा जब इस समस्या के बारे में बताया गया तो एसडीएम को मामले की जांच सौंपी गई। मंगलवार को फरेंदा में आयोजित समाधान दिवस में पहुंचे शहीद पंकज के छोटे भाई शुभम त्रिपाठी ने बताया कि उनके भाई पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए थें। इसके बाद शासन से लेकर जिला प्रशासन ने परिवार की पूरी मदद करने का भरोसा दिया। 

यह भी पढ़ें: लखनऊ में नहीं थम रही चोरी की वारदातें, CCTV में हुआ कैद हुई चोरी

शहीद पंकज त्रिपाठी

जिला प्रशासन ने खेती के लिए जमीन पट्टे पर दी, लेकिन उस जमीन पर जब 10 जुलाई को धान की रोपाई करने गए तो गांव के ही कुछ लोगों ने रोक दिया। साथ ही धमकी भी दी, ऐसे में प्रशासन पूरे परिवार की सुरक्षा की जिम्मेदारी लेते हुए पट्टे की जमीन पर कब्जा दिलाए। प्रभारी डीएम पवन अग्रवाल ने तत्काल एसडीएम फरेंदा आरबी सिंह को जांच सौंपी। रिपोर्ट के आधार पर कार्रवाई का निर्देश दिया।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …