आजमगढ़: मां को खोज लाई पुलिस.. बच्‍चे को देख छलके आंसू, निर्दयी पिता ने बोरे में भरकर था फेंका

डीएन ब्यूरो

आजमगढ़ के अतरौल‍िया थाना क्षेत्र के एक गांव में बोरे में मिले छह वर्षीय बच्‍चे को उसकी मां से पुलिस ने मिला दिया है। काफी खोजबीन के बाद बच्‍चे की पहचान हो गई। बच्‍चे का नाम आदित्‍य के बजाय आदिल है। डाइनामाइट न्‍यूज पर पढ़ें पूरी खबर..


आजमगढ़: जिले के अजरौलिया थाना क्षेत्र के झीसूपुर गांव के एक गांव में बोरे में मिले छह साल के बालक की पुलिस ने पहचान कर ली है। साथ ही बच्‍चे को उसकी मां को ढूंढ़कर मिला दिया है। बच्‍चे को देख मां की आंखों से आंसू छलक उठे। वहीं डीएम ने सीएमओ को निर्देश दिया है कि बच्‍चे और उसकी मां का बेहतर इलाज किया जाए। साथ ही मां के बयान के आधार पर रिपोर्ट दर्ज कराने को कहा है। 

यह भी पढ़ें: चार नामी आईएएस टॉपर्स देंगे नौजवानों को आईएएस की परीक्षा में सफल होने का मूलमंत्र

अंबेडकर नगर जिले के जहांगीरगंज निवासी चार बच्‍चों के पिता बसीर अहमद अपनी पत्नी रेहाना के साथ दस वर्ष से अहरौला थाना के बस्ती भुजवल बाजार में किराए के मकान में रहकर चूड़ी बेचने का काम करता है। चारों बच्‍चों में से छह साल का आदिल जन्‍म से ही दिव्‍यांग है। 

बच्‍चे को खाना खिलाते अस्‍पताल के कर्मचारी

आदिल की मां रेहाना ने बताया कि बीते दिन पड़ोसी की दीवार गिर जाने से आद‍िल के सिर में चोट लग गई थी। बकरीद की रात को उसके पति बशीर अपने भाइयों के साथ बच्‍चे का इलाज करवाने के लिए गया था। तभी से वह फरार है। वहीं दस दिन से बच्‍चेदानी में पथरी का ऑपरेशन होने पर भी वह भी अस्‍पताल में हैं।

यह भी पढ़ें: ‘डाइनामाइट न्यूज़ यूपीएससी कॉन्क्लेव 2019’ आईएएस परीक्षा से जुड़ा सबसे बड़ा महाकुंभ

डाइनामाइट न्यूज़ ने इस खबर को सबसे पहले चलाया था। पूर्वांचल विकास आंदोलन के संयोजक प्रवीण सिंह के द्वारा इसकी जानकारी सामने आई थी। उन्‍होंने पुलिस को भी इसकी जानकारी दी थी साथ ही बच्‍चे की फोटो को सोशल मीडिया पर शेयर करके बच्‍चे के माता पिता को खोजने की गुहार लगाई थी। इसी के बाद एक व्यक्ति ने फोन कर बताया कि अहरौला थाना के बस्ती भुजवल में निवासी एक परिवार का यह बच्चा है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार