अमेठी: बैंक वालों ने खुद ही उड़ा दिए एक गरीब के रुपये.. पूछने पर लगाई फटकार, अब होगी जांच

डीएन ब्यूरो

अमेठी जनपद के मुसाफिरखाना तहसील अंतर्गत बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा बरसंडा में एक नया मामला सामने आया है। जिसमें पीड़ित महिला ने बैंक के कर्मचारियों के ऊपर 32,879 खाते से काट लेने का आरोप लगाया है। मामले में शिकायत के बाद जांच करने की बात सामने आ रही है। डाइनामाइट न्‍यूज़ पर पढ़ें पूरी खबर..

प्रतीकात्मक तस्वीर
प्रतीकात्मक तस्वीर

अमेठी: अभी तक बैंक संबंधी तमाम सारे फ्रॉड सुने और देखे होंगे लेकिन किसी का पैसा बैंक के ही कर्मचारी निकाल लें। यह अपने आप में चौंकाने वाला है। दरअसल अमेठी जनपद के मुसाफिरखाना तहसील अंतर्गत बैंक ऑफ बड़ौदा शाखा बरसंडा में एक नया मामला सामने आया है। जिसमें पीड़ित महिला ने बैंक के कर्मचारियों के ऊपर 32,879 खाते से काट लेने का आरोप लगाया है।

पीड़ित महिला शिव कुमारी ने बताया कि उसके पति विदेश में रहकर मजदूरी करते हैं। उन्होंने वहां से पिछली 8 फरवरी को पैसा खाते में भेजा था। जिसे बैंक वालों ने 5 अगस्त को खाते से निकाल लिया। उसने बताया कि जब वह घर खर्च के लिए खाते से पैसा निकालने गई तो उसके होश उड़ गए। जिसमें पता चला की बैंक वालों ने वह पैसा खाते से काट लिया।

पीड़ित महिला शिव कुमारी (फाइल फोटो)

जब इसकी शिकायत पीड़ित महिला ने बैंक कर्मियों से की तो उसे बताया गया कि वह उसका पैसा नहीं था। किसी दूसरे का पैसा था जो वापस कर दिया गया है। इस पर महिला अपने पति को फोन पर अवगत कराया तो उसके पति ने वहां से पैसा भेजने की रसीद का फोटो भेजा।

जिसे लेकर वह बैंक पहुंची तब बैंक कर्मचारियों ने बात बनाते हुए कहा कि उस खाते से रुपया वापस मंगाने की अर्जी भेजी जाएगी और जब वापस आएगा तब आपको दे दिया जाएगा। हालांकि आजतक तक कोई पैसा वापस नहीं आया।

आज पीड़िता जब बैंक गई तो उसे कर्मचारियों ने गाली-गलौज करते हुए बैंक से भगा दिया गया। इस पर उसने अपर जिला अधिकारी से मामले की शिकायत की। जिस पर उन्‍होने एलडीएम को जांच करने का आदेश दिया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार