फतेहपुर: बिजली विभाग ने प्रयागराज को वर्कशॉप के लिए भेजा तीन करोड़ का प्रस्ताव

डीएन ब्यूरो

जिले में बिजली विभाग ने नया वर्कशॉप बनाने का निर्णय लिया है। इसके बाद उसे सौ से ऊपर की क्षमता वाले ट्रांसफार्मर के लिए प्रयागराज वर्कशॉप पर निर्भर नहीं रहना पड़ेगा। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ की रिपोर्ट..

सौ केवीए से ऊपर के ट्रांसफार्मर के लिए प्रयागराज पर निर्भर रहना पड़ता है
सौ केवीए से ऊपर के ट्रांसफार्मर के लिए प्रयागराज पर निर्भर रहना पड़ता है

फतेहपुर: दस से सौ केवीए तक के ट्रांसफार्मर के लिए जिले में मुराइन टोला वर्कशॉप है लेकिन सौ से ऊपर की क्षमता वाले ट्रांसफार्मर के लिए वह अब भी प्रयागराज वर्कशॉप पर निर्भर है। लेकिन अब ऐसा नहीं होगा क्योंकि बिजली विभाग ने नए वर्कशॉप के लिए प्रयागराज को तीन करोड़ का प्रस्ताव बनाकर भेजा है। यदि सब कुछ ठीक रहा तो सौ केवीए से ऊपर तथा चार सौ केबीए से कम क्षमता वाले ट्रांसफार्मरों की मरम्मत अब जिले में की जाएगी। 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: शहर से गांव तक अब ई-पोस मशीन से होगा राशन वितरण
30 लाख की आबादी वाले जनपद में बड़े ट्रांसफार्मरों की मरम्मत के लिए कोई सुविधा न होने से अगर बड़ा ट्रांसफार्मर फुंक जाता है तो बनकर आने में दस से पंद्रह दिन लग जाते हैं। लेकिन अब बिजली विभाग ने इस समस्या से निजात पाने के लिए नई वर्कशॉप बनाने का निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: फतेहपुरः ई-रिक्शा चालकों से दबाकर अवैध वसूली कर रहा प्रशासन.. जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन

पुरानी बकरामंडी में बनेगी वर्कशॉप
जल्द ही जिले में एक नई वर्कशॉप बनाई जाएगी। इसके लिए बिजली विभाग ने बाकरगंज स्थित पुरानी बकरामंडी की जमीन प्रस्तावित की है। एक्सईएन उपखंड प्रथम प्रभाकर पांडेय का कहना है कि जमीन पहले से ही विभाग के नाम रही है। वहीं बिजली विभाग की यहां पर एक छोटी इमारत भी बनी है। लेकिन राजस्व दस्तावेजों से विभाग का नाम गायब हो गया था। 
अब पुराने दस्तावेजों के आधार पर बिजली विभाग ने राजस्व विभाग को पत्र लिखकर जमीन की अमल दरामत विभाग के नाम करने की मांग की है। साथ में उन्होंने सबूत के तौर पर पुराने दस्तावेज भी भेजे हैं तथा जमीन पर अपना दावा करते हुए यहां पर वर्कशॉप बनाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तीन करोड़ का प्रस्ताव रखा गया है जिसे शासन से मंजूरी मिल गई है।

 


 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार