छात्रा को भगाने में पुलिस पर उठाए सवाल, थाने में बवाल

डीएन संवाददाता

बहराइच में लोगों ने लखनऊ-बहराइच मार्ग पर थाने का घेराव कर जमकर हंगामा काटा। पुलिस की भूमिका को संदिग्ध बताते हुए सैकड़ों लोगों ने थाने का घेराव किया।

थाने का घेराव करते लोग
थाने का घेराव करते लोग

बहराइच: छात्रा को बहला फ़ुसला कर भगाने के मामले में पुलिस की भूमिका संदिग्ध मानते हुए सैकड़ों लोगों ने गोंडा लखनऊ-बहराइच मार्ग को जाम करते हुए थाने का घेराव किया।

जरवालरोड चीनी मिल कालोनी निवासी एक युवक की नाबालिग छात्रा को अलीनगर ग्राम निवासी एक युवक बहला फुसला कर भगा ले गया था। पीड़ित के पिता रतन सिंह की तहरीर पर जरवल रोड थाने में मुकदमा अपराध संख्या 1202/ 017 धारा 363/366 के तहत नाम जद मुकदमा दर्ज किया गया।

यह भी पढ़ें: बहराइच :10 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म

यह भी पढ़ें: बहराइच में रोंगटे खड़े करना वाला मर्डर, पति ने खूबसूरत बीवी का काटा सिर

छात्रा को कानपुर से किया बरामद

पुलिस मुकदमा लिखने के बाद छात्रा का मेडिकल कराना चाहती थी लेकिन छात्रा के परिजन मेडिकल नहीं चाहते थे। इसी बात को लेकर लोगों में पुलिस के प्रति आक्रोशित हो गए। जरवलरोड ग्राम प्रधान अजय कुमार वर्मा की की अगुवाई में सैकड़ो लोगों ने जरवलरोड बाजार को बन्द कराते हुए थाने का घेराव कर दिया। छात्रा को पुलिस ने कानपुर से बरामद किया था।

यह भी पढ़ें: जंगल बुक के मोगली के बारे में तो सब जानते हैं, क्या आपने असली ‘मोगली गर्ल’ देखी?

घेराव करने वलों के खिलाफ होगी कार्यवाही

थाना घेराव व सड़क जाम करने के प्रकरण में अपर पुलिस अधीक्षक रविन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि नाबालिक छात्रा के बहला फ़ुसला कर भगाने के मामले में जरवलरोड पुलिस ने अपना कार्य ठीक से करते हुए लड़की को कानपुर से बरामद कर लिया गया है। विधिक कार्यवाई की जा रही थी लेकिन कुछ अराजक तत्वों ने थाने का घेराव कर दिया। पुलिस के मुताबिक जिन लोगों ने थाने का घेराव किया है उनके खिलाफ कार्यवाई की जा रही है। नामजद अभियुक्त नय्यर के खिलाफ पास्को के तहत कार्यवाई करते हुए जेल भेज दिया गया है।

भारी संख्या में फोर्स तैनात

बाजार बन्दी और थाने का घेराव होने की सूचना पर उपजिलाधिकारी कैसर गंज पंकज कुमार छेत्राधिकारी प्रवीण कुमार सिंह, थाना प्रभारी हजुर पुर, कैसर गंज, फखरपुर सहित भारी संख्या में फोर्स तैनात रही। थाना प्रभारी जरवलरोड हरी सिंह ने बताया कि पीड़ित छात्रा के पिता की लिखित मांग पर छात्रा को माता पिता के हवाले कर दिया गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …