Uttar Pradesh: बदहाली की स्थिति में रेलवे स्टेशन, झाड़ियों और दुर्गन्ध के बीच सफर कर रहें यात्री

डीएन ब्यूरो

एक तरफ जहां रेल प्रशासन सुंदरीकरण के नाम पर करोड़ों रुपए खर्च कर रहा है, वहीं अभी भी कई स्टेशन हैं, जिन्हें नजरअंदाज किया जा रहा है। अभी भी ऐसे कई स्टेशन हैं जहां लोग मूल सुविधाओं से महरूम हैं। जहां ना किसी यात्री को पीने का पानी मिल रहा है ना ही कोई और सुविधाएं। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


सिसवा बाजार(महराजगंज): गोरखपुर-नरकटियागंज रेल प्रखण्ड पर ग्रामसभा सबया स्थित गुरली रमगढ़वा हाल्ट स्टेशन आज भी बुनियादी सुविधाओं से महरूम है। इस हाल्ट स्टेशन पर आज भी यात्री सुविधाओं का टोटा है। लगभग दो दशक पहले स्थापित यह हाल्ट स्टेशन ग्रामसभा गुरली रमग़ढ़वा में स्थित था, लेकिन वहां यात्रियों के बुनियादी सुविधाएं ना मिलने के कारण इस स्टेशन को सबयां में स्थापित किया गया। इस स्टेशन से  निचलौल, खड्डा तथा आस-पास के ग्रामीण क्षेत्रों के हज़ारों की संख्या में यात्री अपने गंतव्य के लिये सफर करते हैं, लेकिन आज तक यहाँ सुविधा के नाम पर विभाग ने कुछ नहीं दिया।

यह भी पढ़ें: दिनदहाड़े एक व्यक्ति को मारी गोली, लोगों ने किया चक्का जाम

जर्जर हालत में वेटिंग रूम

यहां रोशनी ना होने के कारण कभी भी कोई अनहोनी होने का डर लगा रहता है। यहां लगे हुए सरकारी हैण्डपम्पों की दशा भी खराब हो चुकी है। जिसके चलते यात्रियों को आस-पास की दुकानों के पास लगे दूषित पानी पी रहे हैं। बरसात के दिनों में गंदा पानी इकठ्ठा हो जाता है। विश्रामालय के निर्माण के बाद ना तो कोई मरम्मत कार्य हुआ और ना ही कोई विकास। बरसात के समय यात्रियों को बचने के लिए आस पास के घरों और पेड़ो का सहारा लेना पड़ता है। सबसे बड़ी समस्या बच्चों व बुर्जुगों को ट्रेनों में चढ़ने उतरने होती है।

यह भी पढ़ें: मनोज टिबड़ेवाल आकाश पर हुए बर्बर अत्याचार के खिलाफ पत्रकारों ने जलायी मोमबत्तियां, उच्चस्तरीय जांच की मांग

खराब पड़ा हैंडपम्प

इस बारे में स्टेशन अधीक्षक सिसवा का कहना है कि गुरली रमग़ढ़वा हाल्ट स्टेशन पर आ रही समस्याओं के लिए समय-समय पर विभाग को सूचित किया जाता है। जिसमें कुछ समस्याओं का निदान विभागीय प्रक्रिया में है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार