महराजगंज: जनप्रतिनिधियों की अनदेखी से दुश्वारियां झेलने को मजबूर छावनी टोला के लोग

डीएन संवाददाता

सरकार भले ही स्वच्छता अभियान चला रही हो और विकास की गंगा बहाने की बात कर रही हो लेकिन कई क्षेत्र ऐसे भी है, जहां को लोग विभिन्न तरह की समस्याओं से जूझ रहे है। स्थानीय नेताओं की अनदेखी के कारण छावनी टोला के लोग भी कई समस्याओं से ग्रस्त हैं। पूरी खबर..

 ख़राब पड़ी स्ट्रीट लाइट
ख़राब पड़ी स्ट्रीट लाइट

महराजगंज: नगर पंचायत सिसवा बाजार जिले का अति महत्वपूर्ण क्षेत्र माना जाता है लेकिन स्थानीय नेताओं और जनप्रतिनिधियों की उदासीनता के कारण यह क्षेत्र कई मोर्चों पर पिछड़ता जा रहा है। शासन की अनदेखी और योजनाओं के क्रियान्वयन में भारी खामियों के चलते इस क्षेत्र में कई मूलभूत सुविधाओं का अभाव देखा जा सकता है। डाइनामाइट न्यूज़ ने जब इस क्षेत्र का भ्रमण किया तो कई खामियां देखने को मिली। 

 

यह वार्ड विभिन्न प्रकार की समस्याओं से ग्रसित है लेकिन उनमें से छावनी टोला वार्ड नंबर-5 का हाल काफी बेहाल है। यहां के निवासी दुश्वारियां झेलने को मजबूर हैं। सभी को इस बात का इंतजार है कि आखिर कौन उनकी समस्याओं का समाधान करेगा। 

शो-पीस बनी स्ट्रीट लाइटें

मोहल्ले में गलियों के किनारे लगी स्ट्रीट लाइटें पूरी तरह ख़राब हो चुकी है। विद्युत खम्भों पर महीनों से खराब पड़ी इन लाइटों की सुधार के लिए किसी ने ठोस कदम नहीं उठाया। स्ट्रीट लाइटों के अभाव में लोग रात को अंधेरे में इधर-उधर जाने को मजबूर हैं। 

विद्युत पोलों में उतरते करंट, सहमे लोग

जर्जर तारों के चलते विद्युत पोलों पर वर्षा की नमी के चलते करंट उतरने लगें हैं, जिससे कभी भी कोई घटना हो सकती है। इस बात को लकेर लोग काफी सहमे हुए हैं। लोगों का कहना है कि लाइट तो है नहीं लेकिन कुछ पोलों पर करंट दौड़ता रहता है, खासकर बारिश के मौसम में यह जानलेवा साबित हो सकता है। 

बे-रोक टोक घूमते सूअर, बिमारी का भय

इस मोहल्ले में सूअर बाड़ों के बजाय बे रोक-टोक खुले और जलजमाव वाले स्थानों पर घूमते रहते हैं। लोग इनके कारण मस्तिष्क ज्वर जैसी बीमारी होने की आशंका से सहमे हुए हैं। सूअरों के इस तरह घूमने से चारों तरफ गंदगी फैलती रहती है। 

क्या कहते सभासद?

इस बारे में डाइनामाइट न्यूज़ ने जब वार्ड नंबर-5 छावनी टोला के सभासद अभय विश्वकर्मा से बात की तो उन्होंने कहा कि वह इन समस्याओं से अवगत हैं और इसके निराकरण के लिए अधिशासी अधिकारी से शिकायत कर चुके हैं। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …