DN Exclusive: महराजगंज जिले में पेट्रोल पंपों के दावों और हकीकत की जमीनी पड़ताल

आशीष सोनी/मोहन पटेल

जिले के हर कोने में धड़ा-धड़ खुल रहे पेट्रोल पम्पों से जितनी सहजता जनता को हो रही हैं वहीं पॉश इलाके में खुल रहे इन पंपों की छोटी सी चूक से मौत का ताण्डव मच सकता है। जिले भर में पेट्रोल पंपों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है लेकिन क्या इन पंपों पर आग लगने की अप्रिय स्थिति में इससे बचाव के कारगर उपाय किये गये हैं इसी की पड़ताल करती डाइनामाइट न्यूज़ की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..

महराजगंज के एक पेट्रोल पंप पर रखे अग्निरोधी सिलेंडर
महराजगंज के एक पेट्रोल पंप पर रखे अग्निरोधी सिलेंडर

महराजगंज: जनसरोकारों से जुड़ी पत्रकारिता करते हुए डाइनामाइट न्यूज़ ने गुरुवार को जिले के विभिन्न पेट्रोल पंपों पर हल्ला बोला और इस बात की पड़ताल की कि यदि इन पंपों पर आग लग जाये तो क्या यहां पर अग्निरोधी उपाय पर्याप्त रुप से किये गये हैं या फिर नही।

महराजगंज में पेट्रोल पंप पर खड़ी एम्बुलेंस में लगी भयंकर आग, संयोग से बचा पेट्रोल पंप

 

हमारी पड़ताल में यह तथ्य सामने आया कि हाल के दिनों में जिले भर में तेजी से पेट्रोल पंप खुले हैं। ज्यादातर पेट्रोल पंप पर अग्निरोधी उपाय पर्याप्त रुप से नही किये गये हैं। सभी पेट्रोल पंप कंपनियों का दावा होता है कि वे सुरक्षा के पर्याप्त इंतजाम करवाती हैं लेकिन हकीकत इससे जुदा है।

ग्राहक नही हैं संतुष्ट

ज्यादातर ग्राहकों का मानना है कि वे इंतजामों से संतुष्ट नही है।

धड़ाधड़ खुल रहे हैं पेट्रोल पंप

जिले के हर कोने में धड़ाधड़ खुल रहे पेट्रोल पंप की छोटी सी चूक से मौत का ताण्डव पॉश इलाकों में मच सकता है।

कुछ महीने पहले सिंदुरिया में हुआ था हादसा

डाइनामाइट न्यूज़ की इस एक्सक्लुसिव पड़ताल में जिले के तमाम पेट्रोल पंप सुविधाविहीन दिखे और इनके वहाँ जितनी सुरक्षा मुहैया है वह नाकाफ़ी है। अभी हाल ही में सिंदुरिया के एक पेट्रोल पंप पर खड़ी एम्बुलेंस में आग लग गयी और वहाँ के लोगों के सूझ बूझ से उस पर काबू पा लिया गया, यहां एक बड़ा हादसा होते-होते बचा था।  

नही हो रहा सुढावों पर अमल

प्रशासन द्वारा समय-समय पर कहा जाता है कि वाहन चालकों को हेलमेट व सीट बेल्ट लगाना आवश्यक है। जो इसका पालन करें उन्हें ही तेल दिया जाए इसका कहीं कोई पालन नही हो रहा है।

आरओ तक नही

ज्यादातर पेट्रोल पंपों पर आरओ भी लगे नही मिले जिसे लेकर बड़े-बड़े दावे कंपनियां करती हैं कि वे ग्राहकों को शुद्ध पानी की व्यवस्था करवाती हैं।













संबंधित समाचार