महराजगंज: क्वारेन्टाइन सेंटर में युवक की संदिग्ध मौत, जांच में जुटा प्रशासन

डीएन ब्यूरो

राजीव गांधी पीजी कॉलेज के क्वारेन्टीन सेंटर में एक युवक की संदिग्ध मौत का मामला सामने आया है। इस खबर के बाद क्षेत्र में दहशत का माहौल है। जानिये क्या है पूरा मामला..

स्कूल के बाहर लगी भीड़
स्कूल के बाहर लगी भीड़

नौतनवां (महराजगंज) : कोविड-19 संक्रमण के बढते मामलों के बीच क्वारेन्टीन सेंटर में एक युवक की मौत का मामला सामने आया है। युवक की मौत के बाद जहां स्थानीय लोगों में दहशत का माहौल हैं, वहीं स्थानीय प्रशासन इस बात की जांच में जुट गया है कि कहीं यह मामला कोरोना से मौत का तो नहीं है।  

जानकारी के मुताबिक नौतनवा कस्बे के राजीव गांधी पीजी कालेज के क्वारेन्टीन सेंटर में एक नेपाली युवक को प्रशासन द्वारा आश्रय दिया गया था। क्वारेन्टीन सेंटर में रह रहे इस नेपाली युवक की शनिवार सुबह संदिग्ध हालत में मौत हो गयी।

मृतक की पहचान देवबहादुर (32) के रूप में की गयी, जो नवलपुर नेपाल का बताया जा रहा है। यह युवक 18 मई को अलीगढ़ से नौतनवा में पहुंचा था। वह नेपाल जाना चाहता था। लेकिन नेपाल द्वारा अपने ही नागरिकों के प्रवेश में लेटलतीफी व नियम कानून की वजह से उसे नेपाल जाने की अनुमति नहीं मिल सकी।

नेपाल जाने की अनुमति न मिलने के कारण इस युवक को भारतीय प्रशासन द्वारा राजीव गांधी पीजी कालेज में आश्रय दिया गया। उसकी मौत कोरोना से हुई या फिर किसी अन्य वजह से? इसकी जांच में दोनों देशों का प्रशासन जुट गया है। भारतीय प्रशासन द्वारा मौत की सूचना नेपाल प्रशासन को दे दी गई है। इसी आश्रय स्थल पर कई अन्य नेपाली नागरिक भी रुके हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार