महराजगंज: झाड़-फूंक कर कोरोना वायरस भगाने के साधु के दावे से क्षेत्र में हलचल

डीएन ब्यूरो

जहां एकतरफ दुनिया महामारी जैसी बीमारी से परेशान है। बार बार सरकार द्वारा लोगों से अपील किया जा रहा है कि इसका सिर्फ एक ही इलाज है अपने आप को अलग रखें, घर से बाहर ना निकले लेकिन फिर भी अन्धविश्वास करने वाले बाज नहीं आ रहे। कोल्हुई पुलिस ने सख्त कार्यवाही करते हुए साधु को गिरफ्तार किया है। डाइनामाइट न्यूज़ एक्सक्लूसिव:

फाइल फोटो
फाइल फोटो

कोल्हुई (महराजगंज): थाना कोल्हुई क्षेत्र के बड़गो गांव में समय माता के मंदिर पर एक साधू कुछ महिलाओं को इकठ्ठा करके कोरोना जैसी महामारी को दूर करने का दावा कर रहा था। महिलाएं अन्धविश्वास के चक्कर में पड़ कर इकठ्ठा हो गई।

यह भी पढ़ें: महराजगंज का निक्कू जायसवाल मर्डर: हत्या के आरोपी अनिल गुप्ता को कब मिलेगी सजा? परिजनों के आंखों के नहीं सूख रहे आंसू?

सूचना पाकर कोल्हुई पुलिस मौके पर पहुंच गई और साधू को हिरासत में ले लिया। इस मामले में तीन नामजद और चार अज्ञात के खिलाफ धारा 188 के तहत मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

यह भी पढ़ेंः महराजगंज की बड़ी ख़बर, हिस्ट्रीशीटर अनिल गुप्ता पर प्रशासन ने कसा शिकंजा, भेजा जेल

डाइनामाइट न्यूज़ को मिली जानकारी के मुताबिक साधू लोगों को बता रहा था कि वह कोरोना ठीक कर सकता है। यह सूचना कोल्हुई पुलिस को मिली और मौके पर पहुंच साधू को हिरासत में ले लिया। एसओ कोल्हुई रामसहाय चौहान ने बताया कि मामला रविवार का है।













संबंधित समाचार