Uttar Pradesh: अब दर-दर नहीं भटकेंगे टीबी के मरीज, केजीएमयू में जांच के लिए लगाई गई हाईटेक मशीन

डीएन ब्यूरो

यूपी में अब टीबी के मरीजों के लिए एक खुशखबरी है। अब उन्हें इसके ईलाज के लिए दर-दर नहीं भटकना पड़ेगा। राजधानी लखनऊ में स्थित केजीएमयू में कई हाईटेक मशीने लगाई जाने वाली हैं। जो 2 घंटों के अंदर टीबी से जुड़ी बिमारियों की जांच करेगी। पढ़े डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..


लखनऊ: यूपी सरकार के चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह ने आज केजीएमयू के पुनरीक्षित राष्ट्रीय श्रय नियंत्रण कार्यक्रम में बतौर मुख्य अथिति रुप में मौजूद रहे। जहां उन्होंने नव स्थापित 16 मॉड्यूल जीन एक्सपर्ट जांच मशीन का उद्धाटन किया। वहीं इस मौके पर हेल्थ डायरेक्टर, सीएमओ समेत स्वास्थ विभाग के आला अधिकारी मौजूद रहें।

यह भी पढ़ें: हेलमेट ना पहनने पर पुलिसकर्मियों ने युवक को जुतों से पीटा, वीडियो हो रहा वायरल

इस मौके पर स्वास्थ्य मंत्री जय प्रताप सिंह का ने कहा, जैसा की प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का सपना है की भारत देश को 2025 तक टीबी मुक्त किया जाए। इसके लिए केंद्र सरकार के साथ साथ प्रदेश सरकार भी तत्पर है। उन्होनें आगे कहा की भारत में लगतार जनसंख्या बढ़ रही है। आजादी के बाद से जनसंख्या तेजी से बढ़ी है। जनसंख्या के चलते हम लोग यह नहीं समझते हैं की हमको क्या करना चाहिए और क्या नहीं।

यह भी पढ़ें: मोटर-वाहन एक्ट का विरोध हुआ तेज, हिन्दू समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष को पुलिस ने किया नजरबंद

साथ ही उन्होनें कहा की हम लोगों को अपनी दिनचर्या में परिवर्तन करना होगा। प्रधानमंत्री टीबी को समाप्त करने के लिए अभियान चला रहे हैं। हम लोगों को टीवी के मरीजों को चिन्हित करना होगा। जब मरीज चिन्हित होंगे। तभी उनका इलाज भी संभव है। यूपी में आज भी इतना गरीब लोग हैं की फ्री में दवाइयां लेकर बेच देते हैं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार