यूपी में अपहरण के बाद बरामद लड़की पुलिस कस्टडी से गायब, खोज में जुटी 5 टीमें, कोतवाल-महिला आरक्षी निलंबित

डीएन ब्यूरो

क्राइम कैपिटल के रूप में तब्दील हो रहे उत्तर प्रदेश से पुलिस की नाकामी का फिर एक बड़ा मामला सामने आया है। अपहरण के बाद बरामद की गयी लड़की पुलिस कस्टडी से गायब हो गयी है। डाइनामाइट न्यूज की रिपोर्ट


एटा: जिले के अवागढ़ कोतवाली में अपहरण के बाद बरामद की गयी लड़की पुलिस कस्टडी से गायब हो गयी है। 14 अगस्त को अगुवा की गयी इस लड़की को उसके परिजनों की शिकायत के बाद पुलिस ने 17 अगस्त को बरामद कर लिया था और उसके बाद मेडिकल व अन्य अदालती औपचारिकताओं के लिये लड़की को पुलिस कस्टडी में रखा गया था। लेकिन शुक्रवार सुबह लड़की कथित तौर पर पुलिस को चकमा देकर कोतवाली फरार हो गयी। 

लड़की के फरार होने की सूचना के बाद गुस्साये ग्रामीणों और परिजनों ने कल उग्र तरीक से कोतवाली का घेराव किया। परिजनों ने कोतवाल पर लड़की का सौदा करने और उसे गायब कराने का संगीन आरोप लगाया है। मामले की गंभीरता को देखते हुए कोतवाल और महिला आरक्षी को नलंबित कर दिया गया है और लड़की की तलाश में पुलिस की 5 टीमें लगायी गयी हैं। 

डाइनाइट न्यूज संवाददाता के मुताबिक अवागढ़ कोतवाली पुलिस ने 14 अगस्त को अपह्त लड़की को उसके परिजनों की तहरीर के आधार पर 17 अगस्त को बरामद कर लिया था। बरामदगी के बाद मेडिकल व अन्य अदालती कार्यों को पूर्ण कराने के लिये पुलिस ने लड़की को अपनी कस्टडी में रखा। लेकिन आज सुबह महिला पुलिस कर्मी को चकमा देकर लड़की कथित तौर पर फरार हो गई।

सूचना मिलते ही लड़की के परिजन व ग्रामीण बड़ी संख्या में कोतवाली पहुंच गए। जहां लड़की के परिजनों ने बताया कि लड़की 14 अगस्त को शौच के लिए घर से गई थी और वही से उसे अगवा कर लिया गया।  काफी खोजबीन करने के बाद पुलिस को उसके अगवा कर लिए जाने की तहरीर दी। 17 अगस्त को लड़की पुलिस ने बरामद कर ली थी लेकिन तब से उसे मेडिकल व मजिस्ट्रेट के समक्ष बयान की बात कहकर पुलिस अपवी कस्टडी में रखे हुए थी। 

लड़की के परिजनों का आरोप है कि कोतवाली प्रभारी ने उसका सौदा किया और लड़की को फरार करा दिया। पुलिस पर आरोपी के चाचा को भी छोड़ने और फरारा कराने का आरोप है। 

मामले की जानकारी होते ही अपर पुलिस अधीक्षक ओपी सिंह मौके पहुंचे। मामले को गंभीरता से लेते हुए एसएसपी ने तत्काल प्रभाव के साथ आरोपी कोतवाल व महिला आरक्षी को निलंबित कर दिया है। लड़की की दोबारा बरामदगी के लिये पुलिस की 5 टीमों को लगाया गया है।
 








संबंधित समाचार