लोकसभा चुनाव 2019: भीम आर्मी के अध्यक्ष “रावण” ने कहा, बीजेपी को हटाने के लिए सभी पार्टियां एकजुट हों

डीएन संवाददाता

देश में आगामी लोकसभा चुनाव का समय जैसे-जैसे नज़दीक आ रहा है तमाम राजनीतिक पार्टियां और अधिक आक्रामक होती जा रही हैं। हाल ही में दलितों के मसीहा कहे जाने वाले भीम आर्मी के अध्यक्ष ने बीजेपी पर कई गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि किसी भी सूरत में यह पार्टी दोबारा सत्ता में नहीं आनी चाहिए। डाइनामाइट न्यूज की एक्सक्लूसिव रिपोर्ट..


मेरठ: देश में आगामी लोकसभा चुनाव होने में महज़ कुछ महीने ही बाकि रह गए हैं। जैसे-जैसे चुनाव का समय नज़दीक आता जा रहा है तमाम राजनीतिक पार्टियां और अधिक आक्रामक होती जा रही हैं। जहां विभिन्न राजनीतिक दल गठबंधन कर खुद को मजबूत करने में लगे हैं वहीं दलितों के मसीहा कहे जाने वाले भीम आर्मी के संस्थापक तथा अध्यक्ष चंद्रशेखर आज़ाद उर्फ रावण ने सभी पार्टियों को बीजेपी के खिलाफ एकजुट होने को कहा है। मीडिया में बयान देते हुए उन्होंने इसके लिए गठबंधन का समर्थन किया है।

यह भी पढ़ें: ममता के मंच से अखिलेश यादव ने भरी हुंकार.. चुनाव के समय मोदी सरकार CBI और ED से किया गठबंधन
चन्द्रशेखर मेरठ के मवाना क्षेत्र में कुंवर देवेन्द्र और उनके साथियों को भीम आर्मी की सदस्यता दिलाने पहुंचे थे। इस दौरान मीडिया से बात करते हुए उन्होंने ये बयान दिए। इस दौरान चंद्र शेखर के साथ दर्जनों हथियार बंद नजर आये जिनके जरिए शायद रावण अपनी ताकत का एहसास भी करना चाहते थे। 

दलित और सेकुलर वोटों को कर सकते हैं प्रभावित
भीम आर्मी के संस्थापक चंद्रशेखर उर्फ रावण इस वक्त दलित युवाओं के मसीहा बने हुए हैं। खुद को मायावती का बेटा कहे जाने वाले रावण दलित युवाओं में बेहद लोकप्रिय हैं। लिहाज़ा वे दलित और सेकुलर वोटों को प्रभावित कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें: लोकसभा चुनाव के लिए कांग्रेस त्याग सकती है विधानसभा की सीटें..जानिए किस पार्टी को हो सकता है नुकसान

बीजेपी को हराने के लिए गठबंधन का किया समर्थन
चंद्रशेखर आज़ाद ने मीडिया के सामने स्पष्ट कहा है कि वे नहीं चाहते कि आगामी लोकसभा चुनाव भारतीय जनता पार्टी जीते। बीजेपी को हराने के लिए उन्होंने गठबंधन का समर्थन किया तथा कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों को इसके लिए एकजुट होना चाहिए। 


उन्होंने कहा कि किसी भी सूरत में भारतीय जनता पार्टी सत्ता में ना आए और सभी अच्छे लोग चुनाव में एक साथ होकर आगे आये। इसके साथ उन्होंने बहुजन समाज को एकजुट होने की अपील की। उन्होंने कहा कि दूसरे पिछड़े वर्ग के लोगो को भी इस गठबन्धन में शामिल किया जाना चाहिए।

बीजेपी की नीतियों को वोट-बैंक की नीति बताया
उन्होंने मोदी समेत बीजेपी के अन्य नेताओं पर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजेपी की नीतियां वोट बैंक से प्रभावित हैं। उन्होंने बीजेपी के आरक्षण वाले हथकंडे को भी वोट बैंक की नीति कहा। उन्होंने योगी आदित्यनाथ के बयान पर कटाक्ष करते हुए कहा कि वे विकास कार्यों पर बात नहीं करते बल्कि धार्मिक राजनीति करते हैं जिसमें कभी बजरंगबली तो कभी कुंभ तो कभी राम मंदिर उनके बयानों में शामिल होते हैं। आम जन के मुद्दे उनकी राजनीति में शामिल नहीं होते। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …