इण्डो-नेपाल सीमा पर बनेगा अंतर्राष्ट्रीय बस स्टैण्ड

डीएन संवाददाता

नेपाल के सभी यात्रियों की सुविधा को ध्यान में रखते हुए इण्डो-नेपाल सीमा पर अंतर्राष्ट्रीय बस स्टैण्ड का निर्माण किया जा रहा है। इससे यात्रियों को काफी सुविधा मिलेगी।

इण्डो-नेपाल सीमा पर अंतर्राष्ट्रीय बस स्टैण्ड का निर्माण
इण्डो-नेपाल सीमा पर अंतर्राष्ट्रीय बस स्टैण्ड का निर्माण

बहराइच: इण्डो-नेपाल सीमा से सटे रुपईडीहा बॉर्डर पर अंतर्राष्ट्रीय बस स्टैण्ड का निर्माण होगा। इसके निर्माण के बाद यात्रियों को किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होगी। रोडवेज बस अड्डे का निर्माण करीब 13 लाख रुपये की लागत से कराया जा रहा है।

यह भी पढ़ें: महराजगंज: रोडवेज में करंट उतरने से 1 यात्री की मौत, दर्जनों घायल

बस स्टैण्ड का निर्माण-कार्य

भारत-नेपाल सीमा से सटे होने के कारण यहां बस अड्डे का काफी महत्व है। नेपाल से सैकड़ों यात्री इसी बस स्टैण्ड से उत्तराखण्ड, शिमला, चण्डीगढ, दिल्ली, लखनऊ तक का सफर रोजाना तय करते हैं। बस स्टैण्ड का निर्माण करा रहे ठेकेदार सुबोध बिक्रम सिंह ने डाइनामाइट न्यूज़ से एक्सक्लूसिव बातचीत में बताया कि यह जिले का यह सबसे बड़ा बस स्टैण्ड होगा।

यह भी पढ़ें: बलरामपुर: जय गुरूदेव के सत्संग में जा रही बस पलटी, दर्जनों श्रद्घालु घायल

13 लाख के तय बजट से भी आगे बजट बढ़ने की संभावना है। यह बस स्टैण्ड रुपईडीहा वासियों के लिए सरकार का बडा तोहफा है। इस स्टैण्ड के निर्माण हो जाने के बाद सैकड़ों बेरोजगारों को भी रोजगार के अवसर मिल सकेंगे।

यह भी पढ़ें: बांदा: बस पर हाईटेंशन तार गिरने से चार की मौत, सीएम योगी ने अस्पताल पहुंचकर घायलों से की मुलाकात

चल रही डग्गामार बसें

रोडबेज कर्मचारी डीके सिंह ने बताया कि नेपाल से इन दिनों पचासों डग्गामार बसें नेपाल से सवारियां लेकर चण्डीगढ, शिमला, दिल्ली तथा गुजरात तक ले जाती हैं। जिससे सरकार के राजस्व की बहुत बड़ी हानि हो रही है। सरकार को चाहिए की ऐसे बस संचालकों के विरुद्ध कठोर कार्यवाही कर परिवाहन विभाग के हो रहे राजस्व की हानि को बचाया जा सके।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार