नेपाली शराब की तस्करी में सात लोग गिरफ्तार

डीएन संवाददाता

रूपईडीहा पुलिस ने गुरुवार को नेपाली शराब की तस्करी करने वाले गिरोह को गिरफ्तार किया। गिरोह के सात लोगों को बार्डर पर पकड़ा गया।

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी
पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

बहराइच: रूपईडीहा पुलिस ने गुरुवार को नेपाल से भारत में लेकर आ रहे नेपाली शराब के गिरोह को गिरफ्तार किया है। पकड़े गये सभी आरोपी नेपाली गांव जमुनहा निवासी रमेश जायसवाल के यहां से शराब की तस्करी भारतीय इलाकों में करते हैं। पुलिस की पूछताछ के दौरान आरोपियां ने बताया कि एक स्थानीय नेता ने जमुनहा में शराब की दुकान खुलवाई हैं और वही से यह कार्य किया जाता है। पुलिस बाकी आरोपियों की तालाश में जुटी है।

रूपईडीहा के इंस्पेक्टर राजेश कुमार के मुताबिक नेपाली शराब के साथ पकड़े गये युवकों के नाम महेश, सहदेव, बालेश्वर, राजेन्द्र, विनोद,संगम और रोहित है। पुलिस ने बताया कि जल्द ही इस गिरोह के मास्टर माइंड को गिरफ्तार किया जायेगा।

बच्चों से कराई जाती है तस्करी

रूपईडीहा बार्डर से सटे नेपाली गांव जमुनहा में रमेश नामक शराब माफिया छोटे-छोटे बच्चों से नेपाली शराब की तस्करी भारतीय क्षेत्रों में करा रहा है। जबकि जिन मार्गों से नौनिहालों से शराब की तस्करी करायी जा रही है। उसी मार्ग पर सुरक्षा बलों की तैनाती रहती है। बावजूद इसके रोजाना सैकडों बच्चे पहने हुऐ कपडो में नेपाली शराब की बोतलें भर कर ले जाते हैं।

यह भी पढ़ें: बहराइच: पुलिस की नाक के नीचे चल रहा तस्करी का खेल

बच्चों को दिए जाते हैं 15 रुपए

शराब की तस्करी के लिए बच्चों को 15 रुपए दिए जाते हैं। चंद रुपयों के लिए बच्चे इस काम को करने के लिए राजी हो जाते थे। खबरों के मुताबिक नेता के इशारे पर नेपाली शराब की तस्करी नेपाल से भारतीय क्षेत्रों में बच्चों के माध्यम करायी जा रही है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार