आजमगढ़: दहेज रहित सामूहिक विवाह का आयोजन, एक-दूजे के हुए जोड़े

डीएन संवाददाता

दहेज रूपी दानव के कारण जहां कई घर-परिवार उजड़ रहे है वहीं समाज में आज भी ऐसे कई लोग है जो अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन कर गरीबों का घर बसाकर इंसानियत की शानदार मिसाल पेश कर रहे हैं।

सामूहिक विवाह में शादी के बंधन में बंधे जोड़े
सामूहिक विवाह में शादी के बंधन में बंधे जोड़े

आजमगढ़: दहेज रूपी दानव के कारण जहां कई घर-परिवार उजड़ रहे है वहीं समाज में आज भी ऐसे कई लोग है जो अपने सामाजिक दायित्वों का निर्वहन कर गरीबों का घर बसाकर इंसानियत की शानदार मिसाल पेश कर रहे हैं। आजाद कल्याण समाज सेवा समिति रासेपुर ने भी इसी नेकी के साथ यहां सामूहिक विवाह का आयोजन किया, इसकी सबसे बड़ी खासियत इसका दहेज रहित होना था।

मेहनगर थाना क्षेत्र के पौहारी बाबा स्थान पर दहेज रहित सामूहिक विवाह में 3 जोड़ों ने अग्नि के सात फेरे लिए। इस सामूहिक विवाह में ललिता ने राकेश, सपना ने शिवकुमार और विमला ने गोविंद के गले में माला डालाकर शादी के बंधन में बंधे। मंत्रोच्चारण के साथ यह आयोजन किया किया गया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि SDM मेहनगर आसाराम यादव ने जोड़ों को उपहार व आशीर्वाद देकर विदा किया।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार