पराली जलाने को लेकर उत्तर प्रदेश के 26 जिलों के डीएम से मांगा जवाब

डीएन ब्यूरो

पराली जलाने के बढ़ते मामले पर उच्चतम न्यायालय के आदेशों के बाद भी कई जिलों में पराली जलाने के मामले सामने आए हैं। जिसके बाद सख्ती अपनाते हुए उत्तर प्रदेश के 26 जिला अधिकारियों को नोटिस भेजा है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

पराली जलाने पर नोटिस
पराली जलाने पर नोटिस

लखनऊः उच्चतम न्यायालय के आदेशों के बावजूद शासन को दिए गए निर्देशों के बाद भी पराली जलाने के मामले सामने आ रहे हैं। अभी पराली जलाने पर पूरे तरीके से नियंत्रण नहीं पाया गया है। अपर मुख्य सचिव, गृह अवनीश कुमार अवस्थी ने जानकारी देते हुए बताया है कि शासन ने इस गंभीरता से लेते हुए कड़ा रुप अपनाया है।

यह भी पढ़ें: यूपी में तीन आईपीएस के तबादले  

इस संबंध में उत्तर प्रदेश के 26 जिलों के पुलिस अधिकारियों से 3 दिसंबर तक जवाब मांगा है। इससे पहले 10 जिलों के अधिकारियों को अपने जिलों में पराली जलाने की घटनाओं को लेकर 20 नवंबर तक रिपोर्ट जमा करने को कहा था। 

यह भी पढ़ें: प्रियंका रेड्डी के साथ हुई दरिंदगी पर भड़के युवा 


यह नोटिस मेरठ, बुलंदशहर, गौतमबुद्ध नगर, बागपत, हापुड़, शामली, फिरोजाबाद, हाथरस, आगरा, संभल, मुरादाबाद, बदायूं, ज्योतिबा फुले नगर, फर्रुखाबाद, कानपुर देहात, ललितपुर, बांदा, जालौन, कन्नौज, अमेठी, हमीरपुर, भदोही, चित्रकूट, महोबा और कुछ अन्य जिलों को दिया गया है। पराली जलाने के मुद्दे पर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिला मैजिस्ट्रेट को सख्त निर्देश जारी किया है। निर्देश में कहा गया है कि इसकी वजह से राज्य में और राज्य से लगते अन्य क्षेत्रों में प्रदूषण बढ़ रहा है, इसीलिए इस पर रोक लगाएं।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार