मेरठ: यूपी एसटीएफ ने किया मेडिकल परीक्षाओं के पेपर लीक करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

डीएन संवाददाता

यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देशन में उनकी टीम ने मेरठ में मेडिकल परीक्षाओं के पेपर लीक करने वाले गिरोह के सरगना समेत 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया। यह गिरोह 2014 से संचालित हो रहा था। पूरी खबर.

फाइल फोटो
फाइल फोटो

मेरठ: यूपी एसटीएफ के चीफ अमिताभ यश के निर्देशन में एसटीएफ मेरठ की टीम ने मेडिकल परीक्षाओं के पेपर लीक करने वाले गिरोह के सरगना समेत 4 आरोपियों के गिरफ्तार किया है। यह गिरोह 2014 से संचालित किया जा रहा था। एसटीएफ का मानना है कि यह गिरोह इस फर्जीवाड़े के आधार पर अब तक लगभग 600 अयोग्य छात्रों के डॉक्टर बना चुका है। गिरफ्तार आरोपियों से एसटीएफ की पूछताछ जारी है।

एसटीएफ के मुताबिक एमबीबीएस परीक्षा के पेपर को लीक करने में जिन चार आरोपियों के गिरफ्तार किया उनके नाम कविराज, पवन, कपिल और संदीप है। कविराज इस गिरोह का सरगना है। कविराज दस हजार रूपये में संदीप से रिक्त कॉपियां खरीदता था और हरियाणा के अन्य संदीप से इन्हें लिखवाता था। संदीप सॉल्वर का काम करता था। 

इस गिरोह द्वारा मेडिकल छात्रों को प्रति लिखित कॉपी डेढ़ लाख से दो लाख रूपये में बेची जाती थी। इन लिखित कॉपियों को कविराज के पास वापस भेजा जाता था, जो यूनिवर्सिटी में जाकर इन कॉपियों की अदला बदली करता था। इसके ऐवज में कविराज को 35 हजार से 65 हजार रूपये दिये जाते थे।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार