लखनऊ: यूपी एसटीएफ ने किया अवैध हथियारों की तस्करी करने वाले गिरोह का भंडाफोड़

डीएन संवाददाता

यूपी एसटीएफ के मुखिया अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी टीम को फिर एक बड़ी सफलता मिली है। एसटीएफ ने अवैध हथियारों की एक बड़ी खेप के साथ हथियारों की तस्करी करने वाले गिरोह के 2 शातिर आरोपियों को बरेली से गिरफ्तार किया।

गिरफ्तार आरोपियों से बरामद अवैध हथियार
गिरफ्तार आरोपियों से बरामद अवैध हथियार

लखनऊ: यूपी एसटीएफ के मुखिया अमिताभ यश के निर्देश पर उनकी टीम अपराधियों के खिलाफ ब्यापक अभियान चलाये हुए है। एसटीएफ की टीम ने इसी क्रम में बरेली सेअवैध हथियारों की तस्करी करने वाले एक गिरोह का भंड़ाफोड़ कर 2 शातिरों को गिरफ्तार किया है। इनके कब्जे से एसटीएफ ने भारी मात्रा में अवैध हथियार बरामद किये।

गिरफ्तार आरोपी

बरेली से गिरफ्तारी

 एसटीएफ द्वारा गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों के नाम मुल्लू मौर्य पुत्र छुटा मौर्या और प्रहलाद पुत्र बच्चूलाल, निवासी सीतापुर हैं। एसटीएफ को सूबे के कई जिलों में अवैध असलहों की तस्करी के इनपुट्स मिल रहे थे। इन्हीं इनपुट्स के आधार पर एसटीएफ ने कारगर रणनीति बनाकर गिरोह के इन 2 आरोपियों को बरेली से गिरफ्तार किया। मामले की जानकारी देते हुए एसटीएफ ने बताया कि असलहों के अवैध कारोबार को लेकर सूचना मिली कि एक गिरोह के कुछ लोग रोडवेज बस से बरेली से सीतापुर जाएंगे। जिस पर एसटीएफ बरेली के चौकी चौराहे के पास घेरेबंदी कर आरोपियों को दबोच लिया।

लंबे अरसे से अवैध असलहों का कारोबार

 गिरफ्तार आरोपी मुल्लू मौर्या ने एसटीएफ को पूछताछ में बताया कि वह लंबे अरसे से अवैध असलहों के कारोबार में लगा हुआ है। एसटीएफ ने अवैध असलहों के आरोप में उसे पहले भी 2 अगस्त को 92 अवैध असलहों के साथ गिरफ्तार किया था।आरोपी मुल्लू मौर्य ने एसटीएफ को बताया कि विगत 4 दिसंबर को हाथरस जिले में पेशी के दौरान उसकी मुलाकात अवैध असलहों के कारोबारी जरनैल सिंह से हुई थी। जिससे अवैध तमंचो की खेप लेने का उसके साथ सौदा हुआ था।

अच्छे मुनाफे का लालच 

 अवैध हथियारों की खेप जनरैल सिंह को पहुंचाने के लिये वह हाथरस से बरेली पहुंचा था। जहां से उसे रोडवेज बस से सीतापुर जाना था। इन असलहों की खेप उन्हें सीतापुर के जुगल लाल को देनी थी। आरोपी ने एसटीएफ को बताया की वह 12 सौ रूपए प्रति पीस के हिसाब से तमंचे खरीद कर उन्हें 2 हजार से साढे तीन हजार रुपए प्रति पीस तक ग्राहकों को बेच देता था। जिससे उसे अच्छा मुनाफा होता था।

कई थानों में संगीन मामले दर्ज

एसटीएफ ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि आरोपी मुल्लू मौर्य लंबे समय से अपराध की दुनिया में सक्रिय है और उसके खिलाफ हाथरस और सीतापुर के कई थानों में संगीन मामले दर्ज हैं। दोनों आरोपियों के खिलाफ 963, 964/ 2017, धारा 3/25 आर्म्स एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया है। एसटीएफ गिरोह के अन्य आरोपियों की तलाश में जुटी है।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार