सहारनपुर पहुंचे पुलिस अधिकारी, दोनों गुटों से बातचीत कर की सुलह की कोशिश

डीएन संवाददाता

सीएम योगी आदित्यनाथ के चुने हुए अधिकारियों की टीम सहारनपुर पहुंची। यहां पुलिस अधिकारियों ने लोगों से बात की और आश्वासन दिया कि अब ऐसी हिंसाएं नहीं होंगी।

सहारनपुर में नई पुलिस अधिकारियों की टीम
सहारनपुर में नई पुलिस अधिकारियों की टीम

सहारनपुर: शब्बीरपुर की घटना को लेकर हुई हिंसा को रोकने के लिए उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के चुने हुए अधिकारियों की टीम वहां पहुंची। राज्य के प्रमुख गृह सचिव मणिप्रसाद मिश्रा और एडीजी (कानून-व्यवस्था) आदित्य मिश्रा ने जातीय तनाव को कम करने के लिए घर-घर जाकर लोगों की बात सुन रहे हैं।

शब्बीरपुर में लोगों से इस मुलाकात के दौरान बड़ी संख्या में पुलिस भी उनके साथ मौजूद थी। ऐसे माहौल में मिश्रा और उनकी टीम समाज में तनाव दूर करने और उनके सकारात्कता लाने के लिए एक नई रणनीति पर चल रही है। यहां लोगों से उनके गुस्से या चिंता की वजह पूछने की जगह उनकी विश्वास बहाली के लिए बेहद आत्मीय ढंग से मिल रहे हैं। योगी की टीम का लोगों से इस तरह मिलना कारगर साबित हो रहा है। इसी कारण बात करने से हिचक रहीं महिलाएं भी खुलकर अपना दर्द बता पा रही है। कुछ महिलाओं का कहना था कि गांव में बाहरी लोग ही आकर समस्या खड़ी कर रहे हैं, जबकि कुछ ने पुलिस की नाकामी की शिकायत की।

यह भी पढ़ें: सहारनपुर: अफवाह से बचने के लिए इंटरनेट पर रोक, धारा 144 लागू

ठाकुर-दलित के बीच बैठक 

पुलिस ने दोनों समुदायों से बात की और जाहिर किया कि जो कुछ भी हुआ बुरा था और अब आगे ऐसा नहीं होगा। इसी के मद्देनजर उन्होंने ठाकुरों और दलितों के बीच तनाव खत्म करने के लिए दोनों समुदायों की बैठक भी बुलाई। मणि प्रसाद मिश्रा ने यहां कहा कि सहारनपुर में हुआ बवाल, यहां के आपसी तानेबाने का नहीं बल्कि किसी सुनियोजित साजिश का परिणाम है, जो बहुत जल्दी ही सामने आ जाएगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार