Madhya Pradesh FloorTest: मध्य प्रदेश में जारी है सियासी संकट, सुप्रीम कोर्ट पहुंचा मामला

डीएन ब्यूरो

मध्य प्रदेश में सियासी उथल-पुथल अभी भी जारी है। जहां एक ओर 26 मार्च तक विधानसभा स्थगित कर दिया गया है। वहीं दूसरी ओर अब मामला सुप्रीम कोर्ट तक पहुंच गया है। पढ़ें डाइनामाइट न्यूज़ पर पूरी खबर..

मध्य प्रदेश विधानसभा (फाइल फोटो)
मध्य प्रदेश विधानसभा (फाइल फोटो)

भोपालः मध्य प्रदेश में बहुमत परीक्षण का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। शिवराज सिंह चौहान की तरफ से सर्वोच्च अदालत में याचिका दायर की गई है। 48 घंटे में बहुमत परीक्षण की मांग रखी है।

यह भी पढ़ेंः Madhya Pradesh Govt Crisis- फिलहाल बच गई मध्य प्रदेश की कमलनाथ सरकार, नहीं हुआ फ्लोर टेस्ट

बता दें कि आज मध्य प्रदेश सरकार को लेकर फ्लोर टेस्ट किया जाने वाला था। पर कोरोना वायरस का हवाला देते हुए 26 मार्च तक के लिए विधानसभा को स्थगित कर दिया गया है। जिसके बाद से ही सदन में हंगामा जारी है। भाजपा की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट मंगलवार को सुनवाई करेगी। महाधिवक्ता पुरूषेंद्र अपना पक्ष रखेंगे।बीजेपी के सभी विधायक एक बस में राजभवन पहुंचे हैं। 

भारतीय जनता पार्टी के विधायकों के राजभवन पहुंचने से पहले कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह ने राज्यपाल लालजी टंडन से मुलाकात की। दिग्विजय सिंह ने कहा कि मेरे राज्यपाल से अच्छे संबंध हैं, हमने राजनीति पर कोई बात नहीं की।













संबंधित समाचार