महिला से अवैध संबंध बना शिक्षक की हत्या का कारण

डीएन संवाददाता

यूपी के फतेहपुर में महिला से अवैध संबंध के कारण एक शिक्षक की गोली मार कर हत्या कर दी गई।

शिक्षक की हत्या का खुलासा
शिक्षक की हत्या का खुलासा

तेहपुर: यूपी के फतेहपुर में एक शिक्षक की गोली मार कर हत्या कर दी गई। इस टीचर का नाम बालकृष्ण बताया जा रहा है। बता दें कि इस शिक्षक की हत्या कुछ दिन पहले हुई थी लेकिन अब उनकी हत्या की वजह का खुलासा किया गया है।

बालकृष्ण के भाई मनोज तिवारी के अज्ञात लोगों की तहरीर पर पुलिस ने यह खुलासा किया ।खुलासे में दो लोगों के शामिल होना बताया जा रहा। इनमें से एक असोथर थाने का हिस्ट्रीशीटर बच्छराज तिवारी और दूसरा भरखना गांव का रहने वाला राजकुमार उर्फ रजुल्ली है। पुलिस ने राजकुमार उर्फ रजुल्ली को हिरासत में लेकर जेल भेज दिया है। वही बच्छराज अभी भी फरार है।

जानिए क्या है पूरा मामला

बताया जा रहा है कि बालकृष्ण तिवारी का एक महिला से लगभग 20 वर्षो से नाजायज संबंध था और पिछले 10 वर्षों से राजकुमार उर्फ रजुल्ली का भी उसी महिला से संबंध था। बालकृष्ण का उस महिला के घर आना जाना भी था यही बात रजुल्ली को अच्छी नहीं लगी। बताया जा रहा है कि हत्या के कुछ दिन पहले इसी बात को लेकर बालकृष्ण ने रजुल्ली को मारा भी था। इस बास से गुस्साये रजुल्ली ने अपने साथी हिस्ट्रीशीटर बच्छराज के साथ मिलकर बालकृष्ण को मारने का प्लान बनाया। कई दिनों से ये दोनों इसकी रेकी भी कर रहे थे अचानक उन्हें इसका मौका मिल गया। 2 तारीख की रात जब गांव में शादी थी। उसी रात करीब 12 बजे के आसपास रजुल्ली ने बालकृष्ण को फोन करके बाहर बुलाया और गोली मार दी।

सर्विलांस की मदद से पकड़ा गया अपराधी

तहरीर में बालकृष्ण के भाई मनोज तिवारी ने कहा था कि उसके भाई को रात में किसी का फोन आया था। जिसपर पुलिस ने सर्विलांस की मदद से कॉल डिटेल निकाली जिससे पता चला कि बालकृष्ण के मोबाइल पर उसी रात एक महिला का नंबर ट्रेस होकर आया। पुलिस की सख्ती के बाद मामला सामने आया। उसके बाद पुलिस ने गांव के ही राजकुमार उर्फ रजुल्ली को हिरासत में ले लिया। रजुल्ली ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। उसके पास से बालकृष्ण का मोबाइल भी बरामद हुआ है लेकिन जिससे उसने हत्या की थी वह तमंचा बरामद नहीं हुआ। बताया जा रहा है वह देसी कट्टा बच्छराज तिवारी का था।

खबरों की माने तो उस महिला के साथ बच्छराज के भी संबंध की चर्चा थी। असोथर थाना क्षेत्र के भैरवां का रहने वाले बच्छराज तिवारी पर 22 मुकदमा र्दज है और वह एक हिस्ट्रीशीटर है। लेकिन सवाल यह अठता है कि क्या बच्छराज इन दोनों प्रेमियों  को हटाना चाहता था और इसलिए बालकृष्ण और रजुल्ली की आपसी लड़ाई का फायदा उठा कर यह षड्यंत्र रचा जिससे  महिला के साथ अकेला उसका संबन्ध बना रहे। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार