महाराष्ट्र में राजनीतिक हलचलें तेज, उद्धव ठाकरे ने वर्षा में बुलाई महाअघाड़ी बैठक

डीएन ब्यूरो

कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहे महाराष्ट्र में सियासी संकट की भी सुगबुगाहट है। मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने इस संकट के मद्देनजर बुधवारो सहयोगी दलों की बैठक बुलाई है। जानिये, पूरा अपडेट..

फाइल फोटो
फाइल फोटो

मुंबई: कोरोना महामारी के संकट से जूझ रहे महाराष्ट्र में सियासी संकट के पैदा होने की हलचल दिखाई दे रही है। देश की राजनीति के वर्तमान दौर में सभी की नजरें महाराष्ट्र की सियासत पर केंद्रित हो चली है। इन्हीं सियासी हलचलों के बीच मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने अपने महाअघाड़ी सहयोगियों के संग बुधवार को एक अहम बैठक बुलाई है, जिस पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं।   

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने यह बैठक अपने आधिकारिक निवास वर्षा में बुलाई है, जिसमें सभी महाअघाड़ी सहयोगियों के शामिल होने की चर्चा है। हाल के दिनों में एक के बाद लगातार बैठकें किये जाने से भी महाराष्ट्र की सियासत को लेकर तरह तरह की अटकलें लगाई जा रही हैं।

सियासी दिग्गज तो ये भी सवाल उठा रहे हैं कि उद्धव ठाकरे की सीएम की कुर्सी पर खतरा तो नहीं?  सियासी चालों के लिये मशहूर एनसीपी चीफ शरद पवार को लेकर भी कई सवाल राजनीतिक गलियारों में उठ रहे हैं।

माना जा रहा है कि उद्धव द्वारा अपने निजी आवास वर्षा में होने वाली इस महाबैठक में कांग्रेस और एनसीपी के बड़े नेता शामिल होंगे। इस बैठक में उद्धव सरकार पर किसी भी तरह के संभावित संकट से निपटने की रणनीति बनाई जायेगी साथ ही महागठबंधन में शामिल सभी दलों और साथियों का मन टटोलने के भी प्रयास किये जाएंगे।

गौरतलब है कि कल मंगलवार को वीडियो कॉंफ्रेंसिंग के जरिये की गयी एक बैठक में राहुल गांधी ने भी कहा था कि उनकी पार्टी महाराष्ट्र के मामलों में डिसीजन नहीं लेती है। राहुल गांधी के इस जबाव के भी कई सियासी मायने निकाले जा रहे हैं।   
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार