लखनऊ: भाई को गोली लगने के बाद शिक्षक को न्याय के नाम पर सिर्फ मिला आश्वासन..

डीएन संवाददाता

यूपी के मुजफ्फरनगर में एक टीचर के भाई को गोली मार दी गई। फिलहाल वो अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज चल रहा है। शिक्षक ने कई लोगों से न्याय की गुहार लगाई लेकिन उन्हें सिर्फ आश्वासन मिला।

टीचर गोपिन्दर सिहं

लखनऊ: शिक्षक किसी भी राष्ट्र का निर्माता होता है। विद्यार्थियों के जीवन को दिशा देने जैसा अहम दायित्व उसी के ऊपर होता है। हमारे देश मे शिक्षक को ईश्वर से भी बड़ा माना जाता है। यूपी के मुजफ्फरनगर के ग्राम रसूलपुर के रहने वाले गोपिन्दर सिहं पेशे से शिक्षक हैं। गौरतलब है कि इनके छोटे भाई, जोगिन्दर को 7 मार्च 2017 को इलाके के ही शराब माफिया गजेन्द्र के इशारे पर कुछ लोगो ने गोली मार दी। घायल व्यक्ति का मेरठ मेडिकल कालेज मे इलाज चल रहा है।

यह भी पढ़ें: लखनऊ: भारतीय सेना के लिए तैयारी कर रहें युवक की हत्या, हत्यारे की गिरफ्तारी के लिए मंत्री से लगाई गुहार..

बाद मे शिक्षक की तहरीर पर पुलिस ने धारा 148,149,307,506 के तहत मामला दर्ज कर कुल 8 आरोपियो में से 4 को गिरफ्तार कर लिया है लेकिन मामले के मुख्य आरोपियों गजेन्द्र, सचिन, लवीश, तिलकराम की गिरफ्तारी घटना के 2 माह से ज्यादा बीत जाने पर भी नही हो पाई है।

शिक्षक ने लगाया पुलिस पर आरोप

शिक्षक गोपिन्दर सिंह ने थाना, मीरापुर सहित जिले के पुलिस कप्तान पर भी मामलें मे उदासीनता बरतने का आरोप लगाया है। शिक्षक ने बताया कि वे मामलें की शिकायत गृह सचिव मणि प्रसाद मिश्रा,आईजी लोक शिकायत विजय सिहं मीणा,यूपी सरकार के कैबिनेट मंत्री उपेन्द्र तिवारी से भी कर चुके हैं। सभी कारवाई का आश्वासन देते है लेकिन आज तक आरोपियों की गिरफ्तारी नही हो पाई है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार