फतेहपुर: भाई की गोली मारकर की थी हत्या, दो साल बाद पुलिस के हत्थे चढ़ा हत्यारोपी

डीएन संवाददाता

मामूली सी बात को लेकर गोली मारकर भाई की हत्या कर फरार होने वाले आरोपी को पुलिस ने दो साल बाद गिरफ्तार कर लिया। पुलिस के भय से आरोपी घटना के बाद झारखंड फरार हो गया था। पूरी खबर..

 पुलिस हिरासत में आरोपी
पुलिस हिरासत में आरोपी

फतेहपुर: हत्या के आरोप में वांछित और फरार इनामी आरोपी को पुलिस ने दो साल बाद हथगाम थाना क्षेत्र के ग्राम मंगरेमऊ के पास से धर दबोचा। गिरफ्तार आरोपी पर अपने भाई की गोली मारकर हत्या करने का आरोप है। हत्या के बाद आरोपी फरार हो गया था, जिसके बाद से पुलिस उसकी लगातार तलाश कर रही थी। आरोपी ने अपना अपराध कबूल कर लिया है।

जिले के सुल्तानपुर घोष थाना क्षेत्र के मंडवा के मजरे कल्लू मियां का रहने वाला राजा राम यादव पुत्र बच्चू लाल ने दो साल पहले अपने सगे भाई श्रीराम यादव की गोली मारकर हत्या कर दी थी। उसके बाद आरोपी फरार हो गया था। तत्कालीन एसपी ने हत्यारोपी पर दस हज़ार का ईनाम भी रखा था। सोमवार तड़के करीब सवा तीन बजे मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने फरार हत्यारोपी को हथगाम थाना क्षेत्र के ग्राम मंगरेमऊ जाने वाली सड़क पर स्थित लल्लू की आरा मशीन के पास से धर दबोचा।

आख़िर क्या था पूरा मामला

हत्या का यह मामला थाना सुल्तानपुर घोष का है, जहां 16 जून 2016 को रात्रि क़रीब 9:30 बजे आरोपी राजाराम ने घरेलू विवाद में अपने सगे भाई की देशी कट्टे से गोली मारकर हत्या कर दी थी और फ़रार हो गया था। मृतक के पुत्र राहुल सिंह ने आरोपी चाचा के खिलाफ हत्या का मुकदमा दर्ज कराया था। 

गुस्से में आकर की थी भाई की हत्या

पुलिस पूछताछ में गिरफ्तार आरोपी राजाराम यादव ने बताया कि वह अपने लड़के को पीट रहा था, तभी मृतक भाई बीच बचाव करने आ गया, जिसके कारण गुस्से में आकर उसने अपने भाई श्रीराम यादव की तमंचे से गोली मारकर हत्या कर दी। हत्या करने के बाद वह बहुत डर गया था और पुलिस से बचने के लिए झारखंड भाग गया था। उसे लगा कि शायद अब मामला ठंडा हो गया है, इस कारण वह वापस फतेहपुर आ गया था।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)











आपकी राय

Loading Poll …