फतेहपुर सिपाही हत्याकांड: एसपी राहुल राज ने कहा- दरोगा ही है दोषी

डीएन ब्यूरो

किशनपुर थाना क्षेत्र के विजयीपुर चौकी इंचार्ज लक्ष्मीकांत सिंह सेंगर द्वारा हेड कांस्टेबल दुर्गेश तिवारी की हत्या के मामले पर डाइनामाइट न्यूज़ से बात करते हुए एसपी राहुल राज ने कहा कि इस मामले में दरोगा ही दोषी है। पूरी खबर..

फतेहपुर: किशनपुर थाना क्षेत्र के विजयीपुर चौकी के अंदर दरोगा लक्ष्मीकांत सिंह सेंगर द्वारा हेड कांस्टेबल दुर्गेश तिवारी की गोली मारकर हत्या करने के मामले पर डाइनामाइट न्यूज़ से खास बातचीत में एसपी राहुल राज ने आरोपी चौकी इंचार्ज को पूरी तरह दोषी करार दिया है।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: सनकी दरोगा ने सर्विस रिवॉल्वर से हेड कांस्टेबल को गोली मार उतारा मौत के घाट, मचा बवाल  

डाइनामाइट न्यूज़ से खास बातचीत में एसपी ने कहा कि मृतक सिपाही और आरोपा दरोगा के बीच किसी भी तरह की छीना-झपटी नहीं हुई थी, दरोगा ने अपनी सर्विस रिवॉल्वर से सिपाही को सीधे गोली मारी। मौके पर मौजूद अन्य सिपाहियों के बयान और साक्ष्यों के आधार पर इस मामले में दरोगा ही प्रथम दृष्टया दोशी है। इस मामले में दरोगा को गिरफ्तार किया जा चुका है और उनकी सर्विस रिवॉल्वर भी बरामद कर ली गयी है। 

यह भी पढ़ें: फतेहपुर: रिश्वत की रंजिश बनी हेड कांस्टेबल की हत्या का कारण, सनकी दरोगा के आंखों की किरकिरी था दुर्गेश

एसपी ने कहा कहा कि इस हत्याकांड से पहले एक व्यक्ति शराब के नशे में धुत होकर चौकी आया था। वह व्यक्ति सिपाहियों के साथ गाली-गलोच कर रहा था, जिसका सिपाहियों ने विरोध किया। दोरागा ने सिपाहियों की बात नहीं सुनी। सिपाहियों के ऐतराज के बाद भी दरोगा ने गाली-गलोच कर रहे व्यक्ति के खिलाफ कोई एक्शन नहीं लिया, जिससे सिपाही काफी आक्रोशित हुए। आक्रोशित सिपाहियों ने दरोगा से कहा कि यदि आप दोषी व्यक्ति के खिलाफ एक्शन नहीं लेंगे तो हम इसे थाने में बंद कर देंगे। इसी बात को लेकर दरोगा और सिपाहियों में विवाद बढ़ गया, जिसके बाद दरोगा ने सिपाही को गाली मार दी।  

एसपी ने साफ किया कि इस घटना में दरोगा को किसी तरह की चोट नहीं आयी है, छीना-झपटी वाली कोई बात नहीं है। सभी सिपाहियों के भी बयान और जरूरी साक्ष्य भी लिये जा चुके है। सभी चीजें बताती है कि दरोगा ने ही गोली चलायी। दरोगा के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया गया है। 

 

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)







आपकी राय

#DNPoll क्या गैंग रेप के सभी दोषियों को उनकी उम्र की परवाह किये बिना मौत की सजा दी जानी चाहिये?