भारत-नेपाल सीमा 3 दिन के लिये बंद, बॉर्डर पर फंसे हजारों यात्री

डीएन संवाददाता

नेपाल चुनाव का प्रभाव भारत पर भी देखा जा रहा है। बॉर्डर सील होने से भारतीय बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ है। रुपईडीहा बॉर्डर पर एसएसबी ने पूर्ण रूप से नाकेबंदी कर दी है, जिससे आर-पार का आवागमन ठप्प पड़ गया है।

सीमा पर की गयी बैरिकेटिंग
सीमा पर की गयी बैरिकेटिंग

बहराइच: नेपाल में 07 दिसंबर को होने वाले लोक सभा व विधानसभा चुनाव को लेकर भारत-नेपाल सीमा तीन दिनों के लिए पूर्ण रूप से सील कर दी गई है। सीमा सीर किये जाने से बॉर्डर पर हजारों यात्री फंसे हुए है।

 


नेपाल चुनाव का प्रभाव भारत पर भी देखा जा रहा है। बॉर्डर सील होने से भारतीय बाजारों में सन्नाटा पसरा हुआ है। रुपईडीहा बॉर्डर पर एसएसबी ने पूर्ण रूप से नाकेबंदी कर दी है, जिससे आर-पार का आवागमन ठप्प पड़ गया है। पगडंडियों पर भी पूरी मुस्तैदी के साथ जवानों को तैनात किया गया है। 

नेपाल के जमुनहा थाना प्रभारी सुधीर कुमार खड़खा ने बताया कि चुनाव के मद्देनजर सीमा सील की गई है। भारत व नेपाल दोनों देशों के सुरक्षा बल बॉर्डर पर पेट्रोलिंग कर रहे है। जिससे कोई भी अराजक तत्व चुनाव में ब्यवधान उत्पन्न न कर सके। 
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






आपकी राय

क्या भारत चैंपियंस ट्राफी 2017 के फाइनल में पहुंचेगा?

हां
92.86%
नही
7.14%