..और अब सही हाथों को सौंपा शहीद का सम्मान

डीएन संवाददाता

आजमगढ़ के कार्यक्रम में संचालक की गलती के कारण पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी की जगह किसी अन्य महिला को सम्मानित कर दिया था। इस गलती का आभास होने के बाद अब इसे सुधारा जा चुका है।

शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी को सम्मानित करते सपा नेता
शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी को सम्मानित करते सपा नेता

आजमगढ़: परमवीर चक्र शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी के स्थान पर किसी अन्य शहीद की पत्नी को सम्मानित करने की गलती को समाजवादी पार्टी ने सुधार लिया है। सपा नेताओं ने रविवार को शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी रसूलन बीबी को सम्मानित किया।

यह भी पढ़ें: पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा- गोरखपुर त्रासदी का जबाव दें सीएम योगी

परमवीर चक्र सम्मान का पत्र

डाइनामाइट न्यूज़ के संवाददाता के मुताबिक सपा जिला अध्यक्ष हवलदार यादव, पूर्व राज्यसभा सांसद व उत्तर प्रदेश के खाद्य रसद चेयरमैन नन्द किशोर यादव और मुबारकपुर विधानसभा के जिला पंचायत सदस्य राम प्रवेश यादव ने शहीद की पत्नी के घर जाकर उनको सम्मानित किया। सपा नेताओं ने शहीद के गांव धामूपुर जाकर उनकी पत्नी का सम्मान किया और कार्यक्रम संचालक की गलती के लिये माफी मांगी।

यह भी पढ़ें: नोटबंदी और जीएसटी से भाजपा ने बढ़ायी बेरोजगारी- पूर्व सीएम अखिलेश यादव

शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी के साथ सपा नेता

यह भी पढ़ें: पूर्व सीएम अखिलेश यादव: शिक्षामित्र पिकनिक के लिए नहीं, रोजी-रोटी का हक मांगने आये हैं

गौरतलब है कि पूर्व सीएम अखिलेश यादव 30 अगस्त को शहीद वीर अब्दुल हमीद की पत्नी को सम्मानित करने के लिये आजमगढ़ गये थे। कार्यक्रम संचालक की गलती के कारण उन्होंने दूसरे शहीद की पत्नी को सम्मानित कर दिया था।








संबंधित समाचार