अमृतसर ट्रेन हादसा: 61 लोगों की मौत की जिम्मेदारी से रेलवे ने झाड़ा पल्ला.. दोषी कौन?

डीएन ब्यूरो

अमृतसर रेल हादसे में लापरवाही के कारण 60 से अधिक लोग तेज रफ्तार ट्रेन की चपेट में आकर काल के गाल में समा गये जबकि कई लोग घायल हो गये। रेलवे ने हादसे की जिम्मेदारी लेने से इनकार कर दिया। अब बड़ा सवाल यह है कि इस हादसे के लिये आखिर कौन दोषी है, जानिये डाइनामाइट न्यूज की इस स्पेशल रिपोर्ट में..

घट्नास्थल का दृश्य
घट्नास्थल का दृश्य

अमृतसर: पंजाब के अमृतसर में दशहरा के मौके पर हुए बेहद दर्दनाक हादसे में अब तक 61 लोगों की मौत हो चुकी है, जबकि 72 अन्य लोग घायल हो गये हैं। यह हादसा उस समय हुआ, जब सैकड़ों लोग रेलवे के जोड़ा फाटक के पास रावण दहन कार्यक्रम देखने के लिए इकठ्ठे हुए थे। जालंधर से अमृतसर जा रही ट्रेन तेज रफ्तार से आई और सैकड़ों लोगों को अपनी चपेट में लेते हुए गुजर गई। इतना बड़ा हदसा होने के बाद रेलवे में इससे अपना पल्ला झाड़ दिया है, जिससे कई सवाल खड़े हो गये हैं।

यह भी पढ़ें: अमृतसर हादसा: पंजाब सरकार ने एक दिन का शोक किया घोषित 

 

ऐसे में सवाल ये ही है कि आखिर इतनी बड़ी लापरवाही कैसे हुई और इसके लिए आखिर जिम्मेदार है कौन? रेलवे ने हाथ खड़ा करते हुए कहा कि उनकी तरफ से कोई लापरवाही नहीं बरती गई।

यह भी पढ़ें: जानिये, अमृतसर ट्रेन हादसे में क्या हुई पांच बड़ी चूक 

रेलवे बोर्ड अध्यक्ष अश्विनी लोहानी ने कहा है  यह कहना गलत होगा कि इस दुर्घटना के लिए रेलवे जिम्मेदार है। उस ट्रैक पर दो क्रॉसिंग हैं, दोनों बंद थीं। यह मैन लाइन है। वहां कोई गति प्रतिबंध नहीं है।' उन्होंने कहा कि मुख्य लाइन के पास दशहरा उत्सव के बारे में रेलवे प्रशासन को सूचित नहीं किया गया था। लोग रेलवे ट्रैक से दशहरा समारोह देख रहे थे। लोगों को अधिक सतर्क रहने की जरूरत है, उन्हें रेलवे ट्रैक पर अतिक्रमण नहीं करना चाहिए। 

 

यह भी पढ़े: अमृतसर हादसे के बाद कई ट्रेनें रद्द, कई के रूट में किये गये बदलाव

ड्राइवर की लापरवाही पर उठे सवालों के बाद रेल विभाग के एक अधिकारी ने कहा, 'वहां काफी धुआं था जिसकी वजह से चालक कुछ भी देखने में असमर्थ था और गाड़ी घुमाव पर भी थी, इसलिये यह हादसा हुआ। 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …