आजमगढ़ में युवक को छाया लखपति बनने का नशा, पहुंचा जेल

डीएन ब्यूरो

आजमगढ़ में एक ऐसा मामला सामने आया है, जहां एक युवक एटीएम गया था 16 लाख रुपए उड़ाने, पर पहुंच गया सलाखों के पीछे। जानिए कैसे डाइनामाइट न्यूज़ पर

फाइल फोटो
फाइल फोटो

आजमगढ़ः 29 जून की रात को सेन्ट्रल बैक ऑफ इण्डिया शाखा अशरफिया यूनिवर्सीटी में लगे एटीएम में घुसकर एक युवक ने शीन को तोड़कर पैसा चोरी करने की कोशिश की, लेकिन उसकी ये कोशिश नाकामयाब निकली।

जैसे ही उसने मशीन को तोड़ने की कोशिश की वैसे ही मुंबई में बैठे सेंट्रल बैंक के सर्विलांस टीम को भनक लग गयी। सर्विलांस टीम ने मुबारकपुर थाने को सूचना दी। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंच कर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। युवक के खिलाफ शाखा प्रबन्धक की तहरीरपर थाना मुबारकपुर पर मु.अ.स.-115/2020 धारा 379,511,427 के अंदर केस दर्ज किया गया है। 

यह भी पढ़ें: LAC पर शहीद 20 सैनिकों के सम्मान में लगाये 20 पौधे, तमसा परिवार ने जाबांजों को दी श्रद्धांजलि  

गिरफ्तार किए गए आरोपी ने बताया कि उसका नाम गोलू उर्फ गोपाल विश्वकर्मा है। वो साइकिल से मोहम्मदाबाद- मुबारकपुर आया तो देखा कि एटीएम के आस पास कोई गार्ड नहीं है, तो कि इससे अच्छा चोरी करने का मौका नहीं मिलेगा। इसके एक सप्ताह पहले आरोपी मुबारकपुर आकर एटीएम के आस पास घुमकर देखा था जो एकान्त में था इसके दो दिन पहले भी आरोपी ने आकर रेकी किया था। उसने घटना वाले दिन एटीएम में घुसकर शटर निचे गिरा दिया और पेंचकश और लोहे की रॉड से एएटीएम मशीन को तोड़ने लगा उसने सोचा की इसी में पैसे भी रखे होंगे लेकिन काफी तोड़फोड़ के बाद भी पैसे नहीं मिले तब तक पुलिस आ गई।

पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछताछ की तो उसने बताया कि मोहम्दाबाद थाने के मु.अ.स-103/2020 धारा 379,411,413 भा.द.वि में ट्रैक्टर ट्राली चोरी के मामले में जेल गया था। जेल में रहने के दौरान ही कई बडे़ बडे़ बदमाशों से मुलाकात हुई जो चोरी के ही आरोप मे बन्द थे उन्होनें बताया कि रोज-रोज चोरी करने से अच्छा है कि कहीं बैक या ए.टी.एम में लम्बा हाथ मारो जिसमे ज्यादा पैसे मिलेंगे।













संबंधित समाचार