योगी के ड्राइवर पर लगा 500 का जुर्माना, आखिर क्यों इस ख़बर में पढ़िए

डीएन संवाददाता

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बने योगी आदित्यनाथ जो शिक्षा देते हैं। उसका पालन वह खुद भी निजी जीवन में करते हैं। यह बात योगी के ड्राइवर को बड़ी अच्छी तरह से समझ में आ गई होगी।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ
उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ

लखनऊ: सचिवालय को 'टोबैको फ्री' बनाने के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के अभियान की जद में उनका ड्राइवर आ गया। सचिवालय प्रशासन के उड़न दस्ते ने ड्राइवर को खैनी खाते पकड़ लिया और बतौर जुर्माना पांच सौ रुपए की रसीद काट दी गई। दरअसल मुख्यमंत्री शनिवार दोपहर में लाल बहादुर शास्त्री भवन में सरकारी कामकाज कर रहे थे, काफिले की गाड़ियां परिसर में ही खड़ी थीं। इसी दौरान एंटी-टोबैको दस्ता ने छानबीन शुरू की, जिसमें ड्राइवर आदित्य प्रकाश को खैनी खाते हुए पकड़ लिया गया। उस पर पांच सौ रुपए का जुर्माना लगाया गया।

यह भी पढ़ें: मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने की पहली बड़ी नियुक्ति, IAS रिग्जियान सैम्फिल को बनाया अपना विशेष सचिव

यह भी पढ़ें: यूपी के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल डाइनामाइट न्यूज़ पर LIVE

गौरतलब है कि मुख्यमंत्री ने सचिवालय परिसर को टोबैको फ्री क्षेत्र बनाने का निर्देश दिया था। मुख्य सचिव राहुल भटनागर ने सचिवालय प्रशासन को उड़नदस्ता बनाकर प्रभावी कार्रवाई करने का निर्देश दिया था। सचिवालय संघ के अध्यक्ष यादवेंद्र मिश्र ने इस कार्रवाई की सराहना करते हुए कहा कि इससे सचिवालय परिसर को साफ सुथरा बनाने में न सिर्फ मदद मिलेगी, बल्कि कर्मचारियों को तंबाकू जनित बीमारियों से भी बचाया जा सकेगा।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार