डाइनामाइट न्यूज़ से बोले सीएम योगी आदित्यनाथ- 'यूपी में अराजकता का नही होगा कोई स्थान'

मनोज टिबड़ेवाल आकाश

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री बनने के बाद अपनी कर्मभूमि गोरखपुर पहुंचे महंथ योगी आदित्यनाथ से डाइनामाइट न्यूज़ ने एक्सक्लूसिव बातचीत की। इसमें सीएम ने कहा कि उनकी सरकार 22 करोड़ लोगों के भले के लिए काम करेगी।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ डाइनामाइट न्यूज़
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ डाइनामाइट न्यूज़

गोरखपुर: भ्रष्टाचार मुक्त शासन देने के लिए मेरे नेतृत्व वाली सरकार कृत संकल्पित है। मेरे रहते राज्य में अराजकता का कोई स्थान नही होगा। यह कहना है उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का।

सीएम से डाइनामाइट न्यूज़ ने उनके गोरखपुर प्रवास के दौरान रविवार सुबह गोरखनाथ मंदिर में विशेष बातचीत की।

नेपाल से संबंध सुधारने पर रहेगा ज़ोर

नेपाल से भारत के भावी संबंधों के बारे में पूछे गये सवाल के जवाब में योगी ने कहा कि "नेपाल से हमारे आत्मीय और अन्त: करण के संबंध है। भारत सरकार का नेपाल के साथ संबंध सुधारने पर जोर है। हमारी कोशिश रहेगी ये संबंध भविष्य में और बेहतर हों।"

यह भी पढ़ें: डाइनामाइट न्यूज़ का बजा डंका, योगी आदित्यनाथ ही बने सीएम, एक सप्ताह पहले ही डाइनामाइट न्यूज़ ने कर दिया था ऐलान

जल्द होगी नये अफसरों की तैनाती

नये नौकरशाहों की तैनाती कब तक होगी, इससे जुड़े एक सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री ने कहा कि "यूपी कैडर के 10 से 12 वरिष्ठ अफसरों के नाम भारत सरकार को भेजे गये हैं, ये जल्द प्रतिनियुक्ति से वापस आ रहे हैं। इसके बाद तत्काल नयी तैनातियां कर दी जायेंगी।"

रोकेंगे नौजवानों का पलायन

नौजवानों के रोजगार से जुड़े एक सवाल के जवाब में योगी ने कहा "वे हर हाल में युवाओं का पलायन यूपी से रोकेंगे। 5 साल में 70 लाख नौजवानों को स्किल डेवलपमेंट के माध्यम से प्रशिक्षित किया जायेगा।"

दूर करेंगे क्षेत्रीय असंतुलन

पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास से जुड़े सवाल पर आदित्यनाथ ने कहा "वे आज गोरखपुर में अफसरों के साथ समीक्षा बैठक कर रहे हैं। इसमें लटकी पड़ी योजनाओं पर विस्तार से बात होगी। साथ ही विकास की विस्तृत कार्ययोजना बनेगी। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने इस क्षेत्र की उन्नति के लिहाज से बेहद अहम एम्स निर्माण से लेकर बंद खाद कारखाने को चलाने के लिए मंजूरी पहले ही दे दी है। आप बेहद शीघ्र देखेंगे इस क्षेत्र का समग्र विकास होगा और क्षेत्रीय असंतुलन दूर होगा।"













संबंधित समाचार