फतेहपुर: डीपीआरओ बोले, दुष्कर्म का बड़ा कारण शौचालय ना होना

डीएन संवाददाता

पीएम मोदी के स्वच्छ भारत मिशन को कामयाब बनाने के लिये फतेहपुर में जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इस मौके पर ग्रामीणों को बताया कि किस तरह खुले में शौच करना सेहत के लिये हानिकारक है।

स्वच्छ भारत मिशन पर आयोजित कार्यक्रम
स्वच्छ भारत मिशन पर आयोजित कार्यक्रम

फतेहपुर: मंडी समिति में स्वच्छ भारत मिशन के तहत आयोजित कार्यक्रम में लोगों को स्वच्छता के लिये जागरूक किया गया और साथ ही ग्रामीणों को शौचालय बनाने के लिये प्रेरित किया गया। इस मौके पर डीपीआरओ ने कहा कि ग्रामीण अंचलों में महिलाओं के साथ होने वाले दुष्कर्म का मुख्य कारण शौचालयों का नहीं होना है।

यह भी पढ़ें: फतेहपुर में पत्रकार को सरेराह मारी गोली

इस दौरान जिला पंचायत राज अधिकारी (डीपीआरओ) अजय आनंद सरोज ने लोगों को संबोधित करते हुये कहा कि अब सभी को अपनी मानसिकता बदलकर आगे बढ़ने की जरूरत है। सरकार की कोई भी योजना तभी सफल होती है जब सब का साथ मिले।

डाइनामाइट न्यूज़ के संवाददाता से बातचीत में मुख्य विकास अधिकारी एसपी आनन्द ने कहा कि 31 दिसम्बर 2017 तक जिले को खुले में शौच से मुक्त कराना हमारा लक्ष्य है।

यह भी पढ़ें: भीलवाड़ा: खुले में शौच करने वालों को अधिकारी ने ऐसे सिखाया सबक

जनमानस का सहयोग जरूरी

सीडीओ ने कहा कि हमारा उद्देश्य तभी पूरा होगा जब सभी जनमानस का सहयोग मिलेगा। बिना लोगों के सहयोग से काम पूरा नहीं हो सकता।

यह भी पढ़ें: कानपुर में मनाया गया स्वच्छता-राखी का पर्व

नाटक से दिया संदेश

कलाकारों ने कार्यक्रम के दौरान नाटक प्रस्तुत किये। इसके माध्यम से कलाकारों ने ग्रामीणों को बताया कि किस तरह खुले में शौच करना सेहत के लिये हानिकारक है। इसके अलावा अन्य रंगारंग कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये।
 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार