मंत्री गायत्री प्रजापत‌ि को लगा करारा झटका, यौन शोषण के आरोप में सुप्रीम कोर्ट ने दिया एफआईआर का आदेश, कभी भी हो सकती है गिरफ्तारी

डीएन संवाददाता

यूपी के चुनावी माहौल के बीच कैबिनेट मंत्री और अमेठी से सपा प्रत्याशी गायत्री प्रसाद प्रजापत‌ि को करारा झटका लगा है। यौन शोषण के आरोप में घिरे प्रजापति के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट ने एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

गायत्री प्रजापत‌ि
गायत्री प्रजापत‌ि

नई दिल्ली:  विवादों से चोली-दामन का साथ रखने वाले यूपी सरकार के कैब‌िनेट मंत्री और अमेठी से सपा प्रत्याशी गायत्री प्रजापत‌ि पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है। आज सुप्रीम कोर्ट ने यौन शोषण के गंभीर आरोपों से घिरे प्रजापति के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया है।

प्रजापति पर एक महिला के गैंगरेप और उसकी बेटी के यौन शोषण का आरोप है। सर्वोच्च न्यायालय ने इस मुद्दे पर यूपी सरकार से आठ हफ्तों के भीतर जवाब मांगा है।

गायत्री प्रजापति पर आय से अधिक संपत्ति रखने, अवैध कब्जे, अवैध खनन सहित कई संगीन आरोप लग चुके हैं।

कुछ महीने पहले उन्हें अखिलेश यादव ने मंत्रिमंडल से बर्खास्त कर दिया था लेकिन वे फिर सरकार में शामिल हो गये।

डाइनामाइट न्यूज़ संवाददाता के मुताबिक पीड़िता चित्रकूट की रहने वाली है और उसका आरोप है कि मंत्री ने समाजवादी पार्टी में अच्छा पद दिलाने का लालच देकर उसे अपने जाल में फंसाया और पिछले दो साल में कई बार उसके साथ गैंगरेप किया।













संबंधित समाचार