कानूनगो को रिश्वत लेना पड़ा महंगा, एंटी करप्शन टीम ने पकड़ा रंगे हाथ

डीएन संवाददाता

घूसखोरी के मामले में सुल्तानपुर में तैनात एक कानूनगो को एंटी करप्शन टीम ने रंगे हाथों पकड़ा है। डाइनामाइट की इस रिपोर्ट में पढ़िए क्या है पूरा मामला..

जांच करती एंटी करप्शन टीम

सुल्तानपुर: लखनऊ से पहुंची एंटी करप्शन टीम ने सोमवार को रजिस्टार आफिस में तैनात कानूनगो को रंगे हाथ पकड़ा। कानूनगो पर रिश्वत लेने का आरोप लगा है। एंटी करप्शन टीम के मुताबिक कानूनगो किसान से रजिस्ट्री का सौदा कर रहा था तभी टीम ने उसे रंगे हाथ पकड़ लिया। फिलहाल टीम ने कानूनगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराकर जेल भेज दिया गया है।

आरोपी

कुड़वार थाना क्षेत्र के सोहगौली गांव निवासी रामभवन ने तालाब पट्टे की नीलामी में लिया था। जिसकी रजिस्ट्री करने के एवज में रजिस्टार कानूनगो राजीव सिंह किसान से 10 हजार रूपए मांग रहा था। मामला 6 हजार रूपए में तय हुआ।

लेन-देन तय होने के बाद रामभवन ने इसकी सूचना एंटी करप्शन टीम लखनऊ को दी थी, जिसके बाद टीम ने कानूनगो को पकड़ा।

रिश्वत की रकम सील करती टीम

रिश्वत की धनराशि के साथ गिरफ्तारी
टीम के प्रभारी सुंदर सिंह सोलंकी और उनकी टीम ने कानूनगो के पास से रिश्वत की जमा धनराशि 72 हजार रूपए बरामद किए। आरोपी कानूनगो के खिलाफ मुकदमा दर्ज कराया गया है। सुंदर सिंह के मुताबिक आरोपी कानूनगो को जेल भेज दिया गया है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार