मुज़फ्फरनगर: निकाय चुनाव में पूछे जनता- कांग्रेस का हाथ, है किसके साथ?

डीएन संवाददाता

मोबिना बेगम के पति हाजी इकबाल कहते है कि उनको पहली लिस्ट में कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी घोषित किया हुआ था, लेकिन नामांकन के दौरान कांग्रेस के जिला अध्यक्ष नानू मिया सिम्बल लेकर कहीं गायब हो गए। जिस कारण वे सिम्बल चुनाव कार्यलय में जमा नहीं कर पाए। ऐसे ही कई मामले है, जनता को मालूम नहीं कि कांग्रेस के असली सिंबल के साथ कौन चुनाव लड़ रहा है।

डाइनामाइट से बात करते अनीश फात्मा के पति हाजी इज़हार
डाइनामाइट से बात करते अनीश फात्मा के पति हाजी इज़हार

मुज़फ्फरनगर: खतौली निकाय चुनाव में अपनी पार्टी से टिकट न मिलने के बाद कई कार्यकर्ता ही बागी हो गए है। इन कार्यकर्ताओं ने अपने लिए पार्टी सिम्बल की तमन्ना रखी थी। खतौली में अध्यक्ष पद के लिए कुल 25 महिला प्रत्याशियों ने नामांकन किया है, जिनमें से 5 महिला प्रत्याशी पार्टी सेंबल पर चुनाव लड़ रही हैं। हर एक प्रत्याशी अपनी जीत के लिए ऐड़ी-चोटी का जोर लगा रहा है। यहां का मुकाबला दिलचस्प है, लेकिन जनता को नहीं मालूम कि कांग्रेस के सिंबल पर कौन चुनाव लड़ रहा है। 
  

नानू मिया सिम्बल लेकर गायब!

कांग्रेस के टिकट बटवारें को लेकर यह अटकलें बनी है कि आखिर कांग्रेस का हाथ किसके साथ है? यहाँ अनीस फातिमा निकाय चुनाव की तैयारी में जुट गई है। वह अपने आप को कांग्रेस के सिम्बल का दावा करके आगे की रणनीति बना रही हैं। वहीं बसपा का दामन छोड़ कांग्रेस का हाथ थामने वाली मोबिना बेगम को कांग्रेस के सिम्बल का प्रत्याशी बताया जा रहा है। प्रत्याशी मोबिना बेगम के पति हाजी इकबाल कहते है कि उनको पहले लिस्ट में कांग्रेस ने अपना प्रत्याशी घोषित किया हुआ था लेकिन नामांकन के दौरान कांग्रेस के जिला अध्यक्ष नानू मिया सिम्बल लेकर कहीं गायब हो गए। जिस कारण वे सिम्बल चुनाव कार्यलय में जमा नहीं कर पाए।

दोनों की जंग में जनता अंजान

दूसरी तरफ हाजी इजहार ने अपने विपक्षियों को भाजपा के सपोर्टर बताते हुए गंभीर आरोप लगाए और कहा कि हाजी इकबाल के साथ कांग्रेस का चोला पहन वे सभी कांग्रेस पार्टी को बदनाम कर रहे है। उधर हाजी इजहार को हाजी इकबाल ने शहर का गुंडा तक कह डाला। दोनों की जंग में जनता को अभी ये नही पता लग पाया कि आखिर कांग्रेस का हाथ सही मायनों में किसके साथ है। जनपद मुज़फ्फरनगर में निकाय चुनाव 26 नवम्बर को द्वितीय चरण में होने हैं।  

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)








संबंधित समाचार