लखनऊ: महिलाओं के लिये इंडियन मीनोपॉज सोसायटी का दो दिवसीय सम्मेलन 4 अगस्त से

डीएन संवाददाता

महिलाओं के शरीर में 40 वर्ष की उम्र के बाद मीनोपॉज के कारण कई तरह के प्रतिकूल बदलाव आते है, जिससे उन्हें कई स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं का सामना भी करना पड़ता है। मीनोपॉज के कारण होननने वाली समस्या और उनके उपायों पर चर्चा के लिये इंडियन मीनोपॉज सोसायटी (आईएमएस) द्वारा लखनऊ में दो दिवसीय सम्मेलन का आयोजन किया जयेगा। पूरी खबर..

सम्मेलन का पोस्टर
सम्मेलन का पोस्टर

लखनऊ: इंडियन मीनोपॉज सोसायटी (आईएमएस) के लखनऊ चेप्टर द्वारा फोर्टी प्लसकॉन-2018 को लेकर दो दिवसीय नॉर्थ जोन कॉन्फ्रेंस  का आयोजन किया जायेगा। ‘मीनोपॉज..एक नई धारणा’ विषय पर आयोजित होने वाली इस कॉन्फ्रेंस में 40 या 40 वर्ष से अधिक उम्र वाली महिलाओं की स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं और उनके उपायों पर चर्चा की जायेगी।

इस कॉन्फ्रेंस का आयोजन 4 और 5 अगस्त को यूपी की राजधानी होटल क्लार्क अवध में किया जायेगा, जिसमें देश-विदेश के कई चिकित्सक और विशेषज्ञ उपस्थित होंगे। 

इंडियन मीनोपॉज सोसायटी के उपाध्यक्ष डॉ यशोधरा प्रदीप, विभागाध्यक्ष (गायनी एवं ओबेसिटी-आरएमएल आईएनएस) ने बताया कि इस सम्मेलन का उद्देश्य महिलाओं को बढ़ती उम्र के साथ मीनोपॉज के कारण शरीर में होने वाले बदलावों को लेकर जागरूक करना है और शारीरिक समस्याओं का समाधान बताना है। उन्होंने कहा कि इसमे देश-विदेश के कई चिकित्सक, प्रोफेसर और विशेषज्ञ भी भाग लेंगे। अलग-अलग सत्रों में होने वाले इस दो दिवसीय सम्मेलन में मीनोपोज से जुड़े अलग-अलग विषयों पर चर्चा की जायेगी। 

इस सम्मेलन में महिलाओं के फिटनेस पर भी चर्चा होगी और सेहतमंद बने रहने के उपाय भी सुझाये जाएंगे। खान-पान, योगा, डांस, एक्सरसाइज, वॉकिंग आदि के लिये तौर-तरीके भी बताएं जायेंगे। साथ ही स्तन कैंसर, सर्वाइकिल कैंसर, गर्भाशय कैंसर, डायबिटीज, गठिया, ब्लड प्रेशर, मानसिक समस्याएं समेत कई तरह की परेशानियों से बचने के उपायों पर भी चर्चा होगी।  

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार