लखनऊ: शिक्षक भर्ती में धांधली से क्षुब्ध उम्मीदवारों ने गोमती नदी में लगाई छलांग

डीएन संवाददाता

प्रदेश में 68,500 सहायक अध्यापक की भर्ती विवादों में है। इस परीक्षा में धांधली के खिलाफ लगातार प्रदर्शन किये जा रहे हैं। भर्ती प्रक्रिया में धांधली और गंभीर अनियमितता से क्षुब्ध उम्मीदवारों ने गोमती नदी में छलांग लगाई। डाइनामाइट न्यूज़ की


लखनऊ: प्रदेश में 68,500 सहायक अध्यापक की भर्ती विवादों में है। परीक्षा में धांधली को लेकर लगातार प्रदर्शन किये जा रहे हैं। शनिवार को अभ्यर्थियों ने बेसिक शिक्षा मंत्री अनुपमा जायसवाल से मिलने की कोशिश की लेकिन उनकी मंत्री से मुलाकात नहीं हो सकी हो सकी। धांधली से क्षुब्ध कुछ अभ्यर्थियों ने गोमती नदीं में छलांग लगा दी, जिससे वहां हड़कंप मच गया।

यह घटना तब हुई जब प्रदर्शनकारी अभ्यर्थी एससीईआरटी कार्यालय का घेराव करने के लिये पहुंचे। इस दौरान कुछ अभ्यर्थियों ने गोमती नदी में छलांग लगा दी। जिसके बाद गोताखोरों की मदद से तत्काल उन्हें निकाला गया और अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उनका इलाज चल रहा है।

दरअसल पूरा मामला यूपी में सरकार द्वारा 68500 पदों पर शिक्षक भर्ती के लिए निकाली विज्ञापन से जुड़ा है, जिसमें परीक्षा ओएमआर शीट पर नहीं कराई गई और परीक्षा वस्तुनिष्ठ ना होकर लघु उत्तरीय स्तर की थी। उम्मीदवारों का आरोप है कि जिन उम्मीदवारों की सेटिंग थी, उन्होंने कई सवालों के जवाब खाली छोड़ दिए। जिन्हें बाद में भरवाकर कापिंया मैनुअल तरीके से जांची गई, जिससे बड़े पैमाने पर अयोग्य लोगों को अच्छे नंबर मिल गए। उम्मीदवारों ने अब इस मामले की सीबीआई जांच की मांग की है।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …