सपा सरकार की नीतियों से नसीहत ले योगी सरकार: अखिलेश यादव

डीएन संवाददाता

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने आज फिर एक बार यूपी की योगी सरकार की नीतियों पर जोरदार हमला बोला। उन्होंने कहा कि सपा विपक्षी एकता की पक्षधर है और भाजपा के खिलाफ जो भी दल सपा के साथ गठजोड़ करना चाहता है, उसका सपा स्वागत करेगी।


लखनऊ: नए साल के मौके पर आयोजित अपनी पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस में समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने राज्य की मौजूदा योगी सरकार की नीतियों को कटघरे में खड़ा करते हुए कहा कि भाजपा को उनकी समाजवादी सरकार से सीख लेकर सरकार चलानी चाहिये। उन्होंने कहा कि योगी सरकार अपने लगभग 1 साल के कार्यकाल में कोई भी नई नीति नहीं ला पाई है। 

अखिलेश यादव ने योगी सरकार पर किसानों से किए गए वादों को पूरा न कर पाने का आरोप भी लगाया। शनिवार को विधानसभा सहित लखनऊ के कई वीआईपी इलाकों में आलू बिखरे होने पर चुटकी लेते हुए उन्होंने कहा कि यदि किसान को उसकी उपज का दाम नहीं मिल पाएगा तो किसान के पास अपनी फसल सड़क पर फेंकने के अलावा कोई दूसरा चारा भी नहीं बचता है। 

अखिलेश यादव ने कहा कि सूबे में जब फिर से सपा सरकार बनेगी, तब टोल नाकों पर 20 लाख से कम कीमत की गाड़ियों पर कोई टोल टैक्स नहीं देना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि जाड़े के मौसम में सरकार छात्रों को स्वेटर भी नहीं उपलब्ध करा पा रही हैं। जिससे योगी सरकार की कथनी और करनी में बड़ा फर्क देखने को मिल रहा है।
उन्होंने कहा कि केंद्र को नए साल के मौके पर एक बार फिर से नोटबंदी लागू करनी चाहिए, जिससे काले धन को जड़ से समाप्त किया जा सके। उन्होंने कहा कि सपा विपक्षी एकता की पक्षधर है और भाजपा के खिलाफ जो भी दल सपा के साथ गठजोड़ करना चाहता है, उसका सपा स्वागत करेगी।

 

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)






संबंधित समाचार