लखनऊ: सीएम योगी बोले-नये बजट में रखा गया सभी के हितों का ख्याल

डीएन ब्यूरो

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज राज्य के 2018-19 के बजट पर मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि सरकार ने सबका साथ सबका विकास के आधार पर यह बजट पेश किया है। बजट में समाज के सभी वर्गों के हितों का ख्याल रखा गया है।


लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आज राज्य के 2018 19 के बजट पर मीडिया के सवालों के जवाब देते हुए कहा कि सरकार ने सबका साथ सबका विकास के आधार पर यह बजट पेश किया है। बजट में समाज के सभी वर्गों के हितों का ख्याल रखा गया है।

सचिवालय के तिलक हाल में आयोजित प्रेस वार्ता में बजट पर चर्चा करते हुए सीएम योगी ने कहा कि सरकार राज्य में निवेश लाने के लिए बेहतर प्रयास कर रही है, ताकि प्रदेश का चौमुखी विकास किया जा सके। बजट में आपदा राहत कोष में 777 करोड़ रुपए, बेसिक शिक्षा के तहत सर्व शिक्षा अभियान के अंतर्गत 18,167 करोड रुपए बजट का प्रावधान किया गया है। जिसमें कक्षा 1 से 8 तक के सभी बच्चों को निशुल्क किताबें और यूनिफार्म के लिए 116 करोड़ रुपए, जबकि मध्‍याह्न भोजन योजना के लिए 2048 करोड़ रुपए का प्रावधान किया गया है।

 

वहीं राज्य के कई अस्पतालों के आधुनिकीकरण भी सरकार की योजना है। निराश्रित महिला पेंशन योजना के तहत 1263 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 250 करोड़ रुपए, अनुसूचित जाति और सामान्य वर्ग के गरीब परिवारों की बेटियों की शादी के लिए क्रमशः 121 करोड़ और 82 करोड रुपए की व्यवस्था की गई है। वृद्धावस्था और किसान पेंशन योजना के लिए 2,564 करोड रुपए की व्यवस्था की गई है। राज्य में अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए 2,757 करोड़ रुपए जबकि मदरसों के आधुनिकीकरण के लिए 404 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। 

दिव्यांग पेंशन योजना के तहत 575 करोड़ रुपए की व्यवस्था की गई है। मुख्यमंत्री ने एक सवाल के जवाब में कहा कि सरकार बिना किसी भेदभाव के लिए सभी वर्गों के विकास के लिए काम कर रही है और सरकार की मंशा है कि प्रदेश का तेजी से विकास हो और देश के अग्रणी राज्यों में उत्तर प्रदेश भी शामिल हो।

(डाइनामाइट न्यूज़ के ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)










आपकी राय

Loading Poll …